Breaking News

मेवाणी मामले में झूठा FIR कराने वाले का पता लगाए CBI

गुजरात के विधायक जिगनेश मेवानी के खिलाफ ‘झूठा FIR’ दर्ज कराने को लेकर राज्य पुलिस पर असम कोर्ट में चल रहे मामले पर कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने शनिवार को असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा पर हमला बोला। कांग्रेस नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री सरमा इस मामले में सीबीआइ से मदद लें ओर पता करें कि मेवाणी के खिलाफ झूठा FIR दर्ज कराने के पीछे किसका हाथ है।

बता दें कि असम के कोर्ट ने गुजरात के विधायक मेवाणी  को जमानत दे दिया और  एक महिला कांस्टेबल पर कथित हमले के निर्मित मामले में फंसाने की कोशिश करने के लिए राज्य पुलिस की कड़ी आलोचना की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर ट्वीट के मामले में असम के ही एक अन्य कोर्ट द्वारा जमानत दिए जाने के तुरंत बाद 25 अप्रैल को असम पुलिस ने एक निर्मित हमले के मामले में जिग्नेश को गिरफ्तार कर लिया था।

मेवाणी को जमानत देने के अपने आदेश में बारपेटा सेशन कोर्ट ने गुवाहाटी हाईकोर्ट से राज्य में हाल के दिनों में पुलिस की ज्यादतियों के खिलाफ एक याचिका पर विचार करने का भी अनुरोध किया है। सेशन कोर्ट ने यह भी आग्रह किया है कि वह असम पुलिस को बाडी कैमरा पहनने और अपने वाहनों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का आदेश दे। सेशन कोर्ट के जज अपरेश चक्रवर्ती ने अपने आदेश में कहा, ‘हमारे मेहनत से अर्जित लोकतंत्र को पुलिस राज्य में बदलना अकल्पनीय है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *