Breaking News

मासूम को दी पिता की गलती की सजा, बच्चे की बेरहमी से की हत्या

तालिबान (Taliban) का काबुल (Kabul) पर कब्जा होने के बाद से अफगानिस्तान (Afghanistan) के हालात लगातार बिगड़ते ही जा रहे हैं। वहां आतंक, क्रूरता चरम पर है। खुलेआम लोगों की हत्याएं हो रही हैं और उनके अधिकारों को कुचला जा रहा है। अब खबर आई है कि तालिबानियों ने तखार प्रांत (Takhar Province) में एक मासूम बच्चे की बेरहमी से हत्या कर दी है। पंजशीर के एक आब्जर्वर ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। उसने बताया कि तालिबानियों को शक था कि बच्चे का पिता तालिबान प्रतिरोधी मोर्चे से जुड़ा हुआ था। शक होने पर उन्होंने मासूम से बच्चे को गोली मार दी।

खुलेआम चेक कर रहे लोगों के मोबाइल फोन
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, तालिबानी लड़ाके शक के बिनाह पर ही लोगों को गोली मार दे रहे हैं। वे सड़क चलते लोगों को रोक कर उनसे प्रतिरोधी मोर्चे या पिछली सरकार से जुड़े होने के बारे में पूछ रहे हैं। लोगों के मोबाइल छीन रहे हैं। कॉल डिटेल्स व फोटो चेक कर रहे हैं। अगर उन्हें शक भी होता है कि सामने वाला व्यक्ति उनके खिलाफ गतिविधियों में लिप्त है तो उसे सीधे गोली मार दी जा रही है।

पहले कहा था- ‘हम नहीं लेंगे बदला’
काबुल की सत्ता हथियाने के बाद तालिबान ने कहा था कि उनकी लड़ाई खत्म हुई। अब अफगानिस्तान में शांति बहाल होगी। उनकी तरफ से बयान दिया गया था कि उन्होंने सभी को माफ कर दिया है। वे किसी से बदला नहीं लेंगे। इसके इतर, तालिबान उन सभी लोगों को ढूंढ-ढूंढ कर मार रहा है, जो पिछली सरकार या फिर अमेरिकी सेना के समर्थक रहे थे। पंजशीर में भी प्रतिरोधी मोर्चे से जुड़े लोंगों को मौत के घाट उतारा जा रहा है।

लोगों को दिया है दाढ़ी बढ़ाने का हुक्म 
तालिबान का क्रूर शासन फिर से लौट आया है। अभी रविवार को ही तालिबान ने हेलमंद प्रांत में सैलूनों के बाहर नोटिस चिपकाए थे, जिसमें सैलून संचालकों को किसी भी व्यक्ति की दाढ़ी बनाने की मनाही थी। लोगों से कहा गया है कि वे इस्लाम के नियम मानते हुए दाढ़ी बढ़ाएं। ऐसा न करने पर उन्हें गोली मार दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *