Breaking News

मल्लिकार्जुन खड़गे से ED ने 7 घंटे तक पूछे सवाल-जवाब, जयराम बोले- ये राजनीतिक बदले की हद है

नेशनल हेराल्ड मामले (National Herald Affairs) में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने आज करीब सात घंटे तक कांग्रेस के सीनियर नेता मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) से पूछताछ की. इसकी कांग्रेस (Congress) ने निंदा की है. खड़गे से दोपहर 1.30 बजे पूछताछ शुरू हुई थी जो कि रात को करीब 8.30 बजे तक चली. कांग्रेस नेताओं का कहना है कि यह राजनीतिक बदले की हद है. जानकारी के मुताबिक, ईडी ने मल्लिकार्जुन खड़गे से यंग इंडियन के पूर्व कर्मचारियों, वेतन और व्यावसायिक गतिविधियों के बारे में पूछताछ की.

इससे पहले ईडी ने गुरुवार को हेराल्ड हाउस की इमारत में यंग इंडियन के कार्यालय में छानबीन की थी. इस दौरान ईडी ने कंपनी की व्यावसायिक गतिविधियों, वित्त और कामकाज से संबंधित दस्तावेजों की जांच की. वहीं ईडी ने बुधवार को यंग इंडियन का दफ्तर सील कर दिया था. ईडी का कहना था कि कांग्रेस नेताओं ने जांच में सहयोग नहीं किया, जिसके बाद दफ्तर सील करना पड़ा. इस मामले में ईडी ने खड़गे को समन भेजा था और आज उसी बारे में पूछताछ हुई.

मालूम हो कि मल्लिकार्जुन खड़गे ने बुधवार को राज्यसभा में बताया था कि उन्हें ED का समन भेजा है. वह कानून का पालन करेंगे, लेकिन जब संसद का सत्र चल रहा हो तो क्या उनका समन करना सही है? क्या पुलिस के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी के आवासों का घेराव करना सही है?

कांग्रेस खड़गे के साथ खड़ी: जयराम रमेश
कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने ट्वीट करते हुए कहा कि मल्लिकार्जुन खड़गे आज शाम 7:30 बजे विपक्ष की उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार के लिए डिनर होस्ट करने वाले थे लेकिन वह अभी भी ईडी के साथ हैं. यह मोदी सरकार के राजनीतिक प्रतिशोध की पराकाष्ठा है!

इससे पहले उन्होंने अपने एक और ट्वीट में लिखा कि राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे से ईडी कई घंटे से पूछताछ कर रही है. उसकी अग्निपरीक्षा जारी है. पूरी कांग्रेस पार्टी एकजुटता के साथ उनके साथ खड़ी है.

संसद सत्र के दौरान विपक्ष के नेता से पूछताछ
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने खड़गे को समन भेजने पर सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ कि जब संसद चल रही हो, तब विपक्ष के नेता को ED या अन्य इंवेस्टिगेशन एजेंसी द्वारा बयान देने के लिए बुलाया गया हो. अगर खड़गे जी को बुलाना था तो सुबह 11 बजे से पहले या शाम 5 बजे के बाद बुला लेते.

दिग्विजय सिंह ने कहा कि आखिर मोदी इतने डरे हुए क्यों हैं? महंगाई बढ़ी हुई है, हम अपनी लड़ाई नहीं लड़ रहे आप लोगों की लड़ाई लड़ रहे. सभी सांसद कल राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे और कहेंगे कि वित्त मंत्री को हालात की जानकारी नहीं है.

बीजेपी सरकार से कांग्रेस डरने वाली नहीं
वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा, महंगाई को लेकर हम आवाज उठा रहे हैं और हमें रोका जा रहा है. हमारे नेता को बीच सदन में ईडी ने बुला लिया, जबकि संसद में उनको चर्चा करनी थी. यह इतिहास में कभी नहीं हुआ. सरकार चाहे जितना हमें डराने का प्रयास कर ले लेकिन कांग्रेस डट कर खड़ी रहेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *