Breaking News

ममता कैबिनेट से 4 मंत्रियों की छुट्टी तय, 7 नए जिले बनाने का भी ऐलान

कोलकाता: ममता बनर्जी ने सोमवार को कैबिनेट की बैठक बुलाई. बैठक में मंत्रिमंडल में बदलाव पर मुहर लग गई है. ममता बनर्जी ने बताया कि वे अपनी कैबिनेट में बदलाव करने जा रही हैं. हालांकि, उन्होंने कहा, मंत्रिमंडल पूरी तरह से बदला नहीं जाएगा, जैसा की कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है. ये फेरबदल बुधवार को किया जाएगा.

इसके साथ ही ममता ने पश्चिम बंगाल में 7 नए जिले बनाने का भी ऐलान किया है. इनमें सुंदरबन, इछेमती, राणाघाट, बिष्णुपुर, जंगीपुर, बेहरामपुर और बशीरहाट शामिल होगा. इन जिलों के जुड़ने के बाद बंगाल में कुल जिलों की संख्या 30 हो जाएगी. बता दें कि ईडी की छापेमारी के बाद पार्थ चटर्जी जेल में हैं. वहीं एक और पूर्व मंत्री सुब्रतो मुखर्जी का निधन हो चुका है. ममता के मुताबिक जिन्हें मंत्री पद से हटाया जाएगा, उन्हें पार्टी के लिए काम करने में लगाया जाएगा.

नौकरशाही में भी दिख सकते हैं बदलाव
कहा तो ये भी जा रहा है कि इस बार ममता बनर्जी नौकरशाही में भी बड़े बदलाव कर सकती हैं. खबर है कि सीएम इस बार शिक्षा सचिव को बदल दें. इस डिपार्टमेंट की जिम्मेदारी किसी दूसरे ईमानदार अफसर को देने की बात सामने आ रही है. इसी तरह पार्टी में भी कुछ बड़े परिवर्तन संभव हैं. इस लिस्ट में जिला अध्यक्षों को बदला जा सकता है, युवाओं को पार्टी में और ज्यादा तरजीह दी जा सकती है. लेकिन अभी ये सिर्फ अटकलें हैं और फाइनल फैसला अभिषेक बनर्जी और ममता ही लेने वाली हैं.

पीएम मोदी से मुलाकात कर सकती हैं ममता
जानकारी के लिए बता दें कि अगले महीने 5 और 6 अगस्त को ममता बनर्जी प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात कर सकती हैं. इसके बाद सात अगस्त को नीति आयोग की भी मुख्यमंत्रियों के साथ एक बैठक होने वाली है, जिसका हिस्सा भी पीएम रहेंगे. इस बार उस बैठक में भी ममता अपनी मौजूदगी दर्ज करवाएंगी. पिछले साल ममता ने वो मीटिंग अटेंड नहीं की थी, लेकिन इस बार वे शामिल होने जा रही हैं.

ईडी की छापेमारी के बाद पार्थ चटर्जी की छुट्टी
बता दें कि ममता सरकार में मंत्री रहे पार्थ चटर्जी पर ईडी की कार्रवाई जारी है. पश्चिम बंगाल से जुड़े शिक्षक भर्ती घोटाले (SSC recruitment scam) में पार्थ चटर्जी का नाम आया था. उनके घर छापेमारी के बाद पश्चिम बंगाल सरकार बैकफुट पर आ गई थी. जिसके बाद बड़ा एक्शन लेते हुए पार्थ चटर्जी को मंत्री पद और TMC के सभी पदों से हटा दिया गया था.

जांच पूरी होने तक टीएमसी से भी किया सस्पेंड
पार्थ चटर्जी उद्योग मंत्री थे. जब वह शिक्षा मंत्री थे उस दौरान हुए घोटाले के लिए उनको गिरफ्तार किया जा चुका है. टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी ने कहा था कि पार्थ चटर्जी को TMC से सस्पेंड किया गया है. महासचिव, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के साथ-साथ बाकी तीन पदों से उनको हटा दिया गया है. उनको जांच पूरी होने तक के लिए सस्पेंड किया गया है. अगर वह दोषी नहीं पाये जाते हैं तो उनकी पार्टी में वापसी होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *