Breaking News

मध्यप्रदेश में 26 जुलाई से 11वीं और 12वीं और 5 अगस्त से 9वीं और 10वीं के लिए खुलेंगे स्कूल

मध्य प्रदेश में कोरोना के मामलों में कमी आने के बाद जीवन सामान्य हो रहा है. इसी क्रम में स्कूलों को खोलने की तैयारियां तेज हो गई हैं. 26 जुलाई से स्कूलों में 11वीं व 12वीं की कक्षाएं एवं छात्रावास खोले जाएंगे. कक्षा 9वीं एवं 10वीं की कक्षाएं 5 अगस्त से प्रारंभ की जाएंगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी स्कूल 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ प्रारंभ होंगे. जुलाई महीने में सप्ताह में दो दिन तथा अगस्त माह में विद्यार्थी सप्ताह में चार दिन विद्यालय आ सकेंगे. कक्षाएं खोली जाने के संबंध में क्राइसिस मैनेजमेंट समूह स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार निर्णय ले सकेंगे. स्कूलों और छात्रावास में कोविड-19 अनुकूल व्यवहार अपनाने के लिए पृथक से एसओपी जारी की जा रही है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि कक्षा 12वीं के लिए कोचिंग सेंटर 5 अगस्त से 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुल सकेंगे. क्राइसिस मैनेजमेंट समूह और स्थानीय प्रशासन द्वारा सतत मॉनिटरिंग की जाएगी. सभी कोचिंग सेंटर को कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करना आवश्यक होगा. उन्होंने कहा कि प्रदेश के महाविद्यालयों में एक सितंबर से नवीन शिक्षा सत्र आरंभ होगा. वर्तमान में ओपन बुक पद्धति से परीक्षाओं का संचालन किया जा रहा है. स्थानीय परिस्थितियों के अनुरूप महाविद्यालयों में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ ऑफलाइन कक्षाओं का संचालन किया जाएगा.

मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए कि स्कूलों एवं महाविद्यालयों के सभी शिक्षकों एवं कर्मचारियों का अभियान चलाकर शत-प्रतिशत टीकाकरण कराया जाए. इसी के साथ अधिक से अधिक विद्यार्थियों का टीकाकरण कराया जाए.

ओडिशा में भी 26 जुलाई से खुलेंगे स्कूल

ओडिशा में कोरोना से राहत को ध्यान में रखते हुए स्कूल फिर से खोलने का फैसला लिया गया है. ओडिशा सरकार ने बताया कि ग्रामीण और दूरदराज के इलाकों में खराब नेटवर्क के कारण ऑनलाइन कक्षाओं के दौरान छात्रों को होने वाली असुविधा को देखते हुए 26 जुलाई से दसवीं और बारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल फिर से खोले जाएंगे. ओडिशा के स्कूल और जन शिक्षा के प्रमुख सचिव सत्यब्रत साहू ने कहा, हम ऑनलाइन शिक्षण के माध्यम से कुल छात्रों में से केवल 40 प्रतिशत तक ही पहुंच पाए हैं, जबकि अन्य 60 प्रतिशत अभी भी पीछे रह गए हैं. कोविड-19 प्रतिबंधों के कारण, राज्य में स्कूली छात्रों को कक्षा शिक्षण के 150 दिनों का नुकसान हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *