Breaking News

मधुमेह रोगियों के लिए बेहद कारगर है इस पौधे की पत्‍तियां, कंट्रोल में रहेगा ब्लड शुगर लेवल

इन दिनों डायबिटीज (diabetes) एक आम समस्या बन गई है जिसकी मुख्य वजह गलत खानपान और खराब लाइफस्टाइल। देश में लगभग हर तीसरा इंसान इस बीमारी से पीड़ित है। अगर एक बार किसी को यह बीमारी हो जाए तो यह आपका पीछा नहीं छोड़ती है। वहीं इसे कंट्रोल न किया जाए इससे कई सेहत से जरूरी परेशानियां होने लगती हैं। इसलिए शुगर मरीजों को ब्लड शुगर लेवल(blood sugar level) कंट्रोल करना बेहद जरूरी होता है।

ऐसे में दवाइयों(medicines) के अलावा कुछ घरेलू नुस्खों को अपनाकर भी ब्लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है। इन्हीं में से एक शहतूत की पत्‍तियां हैं। यह खाने में स्वादिष्ट होने के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद माना जाता है। यहां तक की इसके पत्तों में भी कई औषधीय गुण (medicinal properties) पाए जाते हैं। इसके सेवन से डायबिटीज से लेकर मोटापे जैसी बीमारियों में लाभ मिलता है। आइए जानते हैं शहतूत की पत्‍तियां किस तरह से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में असरदार हैं।

ब्लड शुगर कंट्रोल करने में कारगर

शहतूत (Mulberry) में डीऑक्सीनोजीरिमाइसिन जैसे यौगिक पाए जाते हैं जो हाई ब्लड शुगर और इंसुलिन की मात्रा को कम करने में मदद करते हैं। साथ ही यह लिवर में बनने वाले अतिरिक्त ग्लूकोज को भी कंट्रोल करता है। एक रिसर्च के अनुसार, जिन डायबिटीज मरीजों (diabetic patients) ने प्रतिदिन 3 बार 1000 मिग्रा शहतूत की पत्ती का अर्क लिया, उनमें ब्लड शुगर लेवल कम पाया गया।

 

डायबिटीज मरीजों के मरीज शहतूत की पत्‍तियां का यूं करें इस्तेमाल
आप इसकी पत्‍तियों को सब्जी में डालकर या फिर सलाद में के रूप में सेवन कर सकते हैं।
आप इसे दिन में एक बार मुंह में रखकर चबा भी सकते हैं।
शहतूत की पत्तियों का सेवन चाय के रूप में भी कर सकते हैं।

अन्य फायदें
वजन घटाने में मददगार
इसके पत्ते वेटलॉस (weight loss) करने के लिए सबसे कारगर उपाय में से एक है। एक अध्ययन के अनुसार, इसकी पत्तियों की चाय बनाकर पीने से मोटापा कम हो जाता है।

दिल को रखें स्वस्थ
शहतूत की पत्तियों में फेनोलिक्स और फ्लेवोनॉयड पाए जाते हैं जो दिल से जुड़ी बिमारियों को कम करने मदद करते हैं।

मुंहासे के लिए
इसके लिए शहतूत की पत्तियों और नीम की छाल को बराबर मात्रा में पीसकर इसका पेस्ट बना लें फिर इसे अपने चेहरे पर लगाएं। इससे मुंहासें ठीक हो जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *