Breaking News

मदरसों में पढ़ाई के वक्त को बढ़ाने के फैसले के विरोध में उठने लगी आवाज

आज से उत्तर प्रदेश के मदरसों में एक घंटे ज्यादा पढ़ाई होगी. यूपी मदरसा बोर्ड ने इसके बारे में राज्य के सभी मदरसों को निर्देश जारी किए थे. मदरसों में पढ़ाई के लिए सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक का समय तय हुआ है. आज मदरसों में राष्ट्रगान और दुआ से पढ़ाई की शुरुआत हुई. इस फैसले का जहां कई लोगों ने पहले स्वागत किया था, वहीं अब इसके विरोध में कुछ आवाजें भी उठने लगी हैं.

मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना सुफियान निजामी ने मदरसों में एक घंटा ज्यादा पढ़ाई कराने के निर्देश पर एतराज जताया है. उन्होंने कहा कि पढ़ाई के वक्त में इजाफा किए जाने से समस्याएं पैदा होंगी. क्योंकि मदरसों में पढ़ने और पढ़ाने वाले इमामत भी करते हैं. इसके कारण मदरसों से जुड़े लोगों की इमामत पर असर पड़ेगा. मौलाना निजामी ने कहा कि मदरसा बोर्ड के जिम्मेदार लोगों को अपने फैसले पर दोबारा सोचने की जरूरत है.

गौरतलब है कि मदरसों की पढ़ाई के समय में बदलाव किया गया है और अब मदरसों में सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक पढ़ाई कराने का फैसला लागू किया गया है. इसके कारण अब मदरसों में 6 घंटे तक पढ़ाई होगी. जबकि पहले 2 बजे तक ही पढ़ाई होती थी. बहरहाल इस गाइडलाइन में कुछ खामियों की ओर कई लोगों ने ध्यान दिलाया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने मदरसों की शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए कई तरह की पहल की है. उत्तर प्रदेश के हर जिले में चल रहे मदरसों की हालत का सरकार ने पूरा सर्वे करवाया है. इसके आधार पर मदरसों में पढ़ने वाले छाक्षों के हितों के लिए आधुनिक शिक्षा देने के सभी उपाय करने की कोशिश की जा रही है. मदरसों में पढ़ने वाले बच्चों का भी पूरा रिकॉर्ड तैयार किया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *