Breaking News

मंगल ग्रह पर नासा ने उतारा रोवर, पैराशूट पर लिखा था सीक्रेट मैसेज, सिर्फ 6 लोग को थी जानकारी

मंगल ग्रह पर अपना रोवर उतारने के लिए अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने जिस पैराशूट का उपयोग किया था, उसमें एक सीक्रेट मैसेज था. इस मैसेज के बारे में NASA की मार्स टीम के सिर्फ 6 सदस्यों को ही पता था कि इसमें क्या सीक्रेट संदेश है. ये संदेश नारंगी और सफेद रंग की पट्टियों के जरिए बनाया गया था. अब इंटरनेट पर लोग दावा कर रहे हैं कि उन्होंने इस कोड को ब्रेक कर लिया है. आइए जानते हैं कि इस सीक्रेट मैसेज के पीछे की कहानी…

नासा (NASA) के मार्स पर्सिवरेंस रोवर (Mars Perseverance Rover) की टीम के सदस्यों को पहेलिया, क्रॉसवर्ड्स, पजल आदि बहुत पसंद हैं. सिस्टम इंजीनियर इयान क्लार्क चाहते थे कि पैराशूट पर कोई संदेश दिया जाए. लेकिन इसमें संदेश क्या लिखा जाए, कैसे लिखा जाए. क्या साफ-सुथरा लिख दें या उसकी सीक्रेट कोडिंग कर दें. इयान ये आइडिया दो साल पहले लेकर टीम के सामने पहुंचे. टीम के प्रमुख छह सदस्यों को ये पसंद आया. इसके बाद फैसला लिया गया कि 70 फीट व्यास के पैराशूट पर संदेश क्या लिखा जाएगा. तब इयान ने कहा ‘Dare Mighty Things’ लिखते हैं. सवाल था कि इसकी कोडिंग क्या करें. तब इयान ने पैराशूट के ऊपर नारंगी और सफेद रंग की पट्टियों को बाइनरी कोड में बदला.

इयान ने बाइनरी कोड में पैराशूट के ऊपर ‘Dare Mighty Things’ लिखा. इयान ने ही मिशन के लिए जीपीएस कॉर्डिनेट्स को शामिल किया था. इयान ने बताया कि जब मैंने यह आइडिया लोगों के साथ शेयर किया तो सब एक्साइटेड हो गए थे. हमने नायलॉन से बने पैराशूट पर बाइनरी कोडिंग की. हमने पहले उसका कंप्यूटर डिजाइन तैयार किया. फिर उसी तरह से पैराशूट को बनवाया गया. इयान ने बताया कि लॉन्चिंग के कुछ ही घंटों के अंदर इस मिशन के प्रशंसकों ने इस बाइनरी कोड को तोड़ दिया. अगली बार मैं थोड़ा ज्यादा क्रिएटिव होने की कोशिश करूंगा, ताकि इतनी जल्दी कोड तोड़ा न जा सके. ‘Dare Mighty Things’ लाइन को पूर्व राष्ट्रपति थियोडोर रूजवेल्ट ने कहा था. ये लाइन जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी (JPL) का मंत्र है.

मार्स पर्सिवरेंस रोवर (Mars Perseverance Rover) पर एक धातु का प्लाक यानी पट्टी लगी है, जिसमें पिछले सारे मार्स मिशन की बढ़ते क्रम में छोटी-छोटी तस्वीरें लगी हुई हैं. इस मिशन के डिप्टी प्रोजेक्ट मैनेजर मैट वालेस ने बताया कि इस मिशन में कई छिपे हुए ईस्टर एग्स हैं. ये तब दिखाई देंगे जब मार्स रोवर का 7 फीट लंबा रोबोटिक आर्म खोला जाएगा. ये रोबोटिक आर्म खुलने के बाद जब रोवर के नीचे के हिस्सों की तस्वीरें लेगा तब कई और नए खुलासे होंगे. फिलहाल रोवर को एक ही स्थान पर रखा गया है. जब यह चलना शुरू करेगा, तब और कई हैरान करने वाली जानकारियां सामने आएंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *