Breaking News

बेटी से मिलने जा रही थी महिला, रास्ते में 4 घंटे में 2 बार हुई रेप का शिकार

अपणायत के शहर जोधपुर (Jodhpur City) में किसी भी अनजान की मदद करना यहां की रवायत है. लेकिन इसी सूर्यनगरी में दो बदमाशों ने मदद के नाम पर एक अकेली महिला को अपनी गंदी मानसिकता का शिकार बनाकर शहर को शर्मसार कर दिया. अपनी मासूम बेटी से मिलने जा रही इस महिला को पहले राजस्थान पुलिस के एक पुलिसकर्मी का रिश्तेदार मदद के बहाने थाने के पीछे बने क्वार्टर में ले गया और उससे रेप (Rape) किया. बाद में रेलवे स्टेशन पर टैक्सी चालक ने मदद का झांसा देकर उससे दुष्कर्म किया. हैरानी की बात यह है कि महज चार घंटे के भीतर ही महिला से दो अलग-अलग वारदातों में दुष्कर्म किया गया. पीड़िता की दास्तां सुनकर एकबारगी पुलिस भी सकते में आ गई. पुलिस ने दोनों आरोपियों को दबोच लिया है.

पुलिस के अनुसार दोनों वारदातें जोधपुर के मंडोर थाना इलाके से जुड़ी हैं और शुक्रवार रात को हुई. यहां एक आपराधिक मामले में बालिका सुधार गृह में रह रही महिला को अपनी मासूम बेटी की याद आई. इस पर वह बालिका सुधार गृह की सुरक्षा व्यवस्था में सेंध मारकर शुक्रवार आधी रात वहां से फरार हो गई. वहां से फरार होने के बाद जब वह अपने घर की ओर जा रही थी तो उसकी मुलाकात एक एएसआई के रिश्तेदार से हुई. वह उसे मदद का आश्वासन देकर पुलिस थाने के पीछे बने क्वार्टर में ले गया. वहां उसने महिला से रेप किया. बाद में उसे मंडोर रेलवे स्टेशन के नजदीक बने पुलिये के पास ले जाकर छोड़ दिया.

टैक्सी चालक पीड़िता को कायलाना की पहाड़ियों में ले गया
रात का वक्त होने के कारण पीड़िता वहां बैठ गई. इसी दौरान वहां एक टैक्सी चालक आया. उसने महिला को वहां बैठे रहने का कारण पूछा. पीड़िता ने उसे आपबीती बताई. टैक्सी चालक ने पीड़िता की पूरी कहानी सुनकर उसे प्रतापनगर तक छोड़ने का झांसा देकर अपने साथ बिठा लिया. डरी हुई पीड़िता उसके साथ टैक्सी में सवार हो गई. लेकिन टैक्सी चालक महिला के हालात का फायदा उठाकर उसे कायलाना की पहाड़ियों में ले गया. उसके बाद उसने वहां पीड़िता से रेप किया. सुबह करीब साढ़े पांच बजे पीड़िता टैक्सी चालक के चंगुल से निकलकर जैसे-तैसे करके अपने घर पहुंची. वहां उसने अपने परिवार को पूरी घटना बताई. इस पर परिजन उसे लेकर मंडोर थाने लेकर पहुंचे और दोनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया.

दोनों आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने तुरंत एक्शन लिया और भागदौड़ कर दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया. पकड़े गये आरोपियों में से एक कुलदीप बिश्नोई (23) है. वह जोधपुर जिले के बाप सोनल पूरा राणेरी का रहने वाला है. वह थाने के पीछे स्थित खाली क्वार्टर में रहकर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा है. दूसरा आरोपी देचू थाना इलाके के गोदेलाई का बाबूराम जाट (22) है. वह टैक्सी चालक है. पीड़िता गत वर्ष अक्टूबर माह में भी और बेटी से मिलने के लिए सुधार गृह से भाग गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *