Breaking News

बांग्लादेश में हिंदुओं के गांव के 70-80 घरों पर हमला, अब तक 22 संदिग्धों को किया गिरफ्तार

बांग्लादेश में अल्पसंख्यक समुदाय के एक युवक द्वारा कथित तौर पर सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखने के बाद एक इस्लामिक समूह के हजारों समर्थकों ने देश के पूर्वोत्तर में स्थित सिलहट डिवीजन में हिंदुओं के 70-80 घरों पर हमला किया और उन्हें क्षतिग्रस्त कर दिया। मीडिया में शुक्रवार को खबरों में यह जानकारी सामने आई। ढाका ट्रिब्यून अखबार के मुताबिक हिफाजत ए इस्लाम के नेता मामुनुल हक के हजारों अनुयायियों ने सिलहट डिवीजन के सुनामगंज जिले के शल्ला उप जिले में एक हिंदू गांव पर हमला किया। खबर के अनुसार, पुलिस ने बताया कि काशीपुर, नाचनी, चांदीपुर और कुछ अन्य मुस्लिम बहुल गांवों से हक के समर्थक, नवागांव गांव में एकत्र हुए और उन्होंने स्थानीय हिंदुओं के घरों पर डंडों और देसी हथियारों से हमला किया और 70-80 घर तोड़ डाले।

खबर के मुताबिक, कई हिंदू अपनी जान बचाने के लिए घर से भाग गए और भीड़ ने गांव में घुसकर कई घरों को लूटा। हिफाजत-ए-इस्लाम के अमीर अल्लामा जुनैद बाबूनगरी, संयुक्त महासचिव मौलाना मुफ्ती मामुनुल हक और कई अन्य नेताओं ने सोमवार को डेरा उपजिला में एक जलसे में भाग लिया था। खबर में कहा गया कि हक के भाषण से आक्रोशित होकर एक हिंदू युवा ने कथित तौर पर फेसबुक पर आलोचनात्मक पोस्ट लिखी थी, जिसके बाद भीड़ ने बुधवार को गांव पर हमला किया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि बांग्लादेश पुलिस के विशेष दलों को घटनास्थल पर तैनात किया गया है। शल्ला उपजिला निर्वाही अधिकारी अल मुक्तदिर हुसैन ने एक बयान में कहा कि हक का अपमान करने के लिए आरोपी युवा को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस बीच, पुलिस ने हमलावरों को पकड़ने के लिए सुनामगंज में एक गांव पर छापा मारा। ढाका ट्रिब्यून की खबर के अनुसार शुक्रवार सुबह तक 22 संदिग्धों को गिरफ्तार किया जा चुका था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *