Breaking News

बांग्लादेश : इकबाल ने रखे पंडाल में कुरान, फिर करा दिया हिन्दुओं के खिलाफ दंगे

बांग्लादेश के कुमिल्ला में दुर्गा पूजा पंडाल में की गयी हिंसा का सच सामने आ गया है। मां दुर्गा के पंडाल में कुरान रखने वाल शख्स की पहचान कर ली गई है। पुलिस ने बताया कि अभियुक्त की पहचान सीसीटीवी के आधार पर की गई। अब उसे पकड़ने के लिए ऑपरेशन चलाया जा रहा है। पुलिस ने बताया कि पंडाल में कुरान रख कर तनाव फैलाने वाले व्यक्ति का नाम इकबाल हुसैन बताया जा रहा है। माना जा रहा है कि इकबाल ने सांप्रदायकि सौहार्द को बिगाड़ने के लिए कुरान की प्रति को पंडाल में रखा था। वह इसमें कामयाब भी हो गया। ज्ञात हो कि कुमिल्ला के एक दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान रखे जाने की घटना के बाद बांग्लादेश जल उठा था। मुस्लिम कट्टरपंथियों की भीड़ ने दर्जनों मंदिरों में तोड़फोड़ की है और 7 लोग मारे भी गए हैं। हिन्दुओं को साम्प्रदायिक हिंसा का शिकार होना पड़ा।

 

ढाका ट्रिब्यून ने पुलिस के हवाले से बताया है कि इकबाल के पास कोई स्थायी नौकरी नहीं है। वह इधर-उधर घूमता रहता है। अभी यह साफ नहीं है कि उसका ताल्लुक किसी राजनीतिक पार्टी से है या नहीं। बताया जा रहा है कि इकबाल की मां अमीना बेगम का दावा है कि उसके बेटे को ड्रग्स की लत है और वो अपने ही परिवार के सदस्यों को अलग-अलग तरीकों से परेशान करता रहता था। वह साम्प्रदायिक सौहार्द्र बार-बार बिगाड़ता है।

कुमिल्ला में इस हिंसा के संबंध में अब तक 4 मामले दर्ज किए गए हैं। 41 लोगों को अरेस्ट किया गया है। इनमें से 4 लोग इकबाल से जुड़े हुए हैं। बांग्लादेश के गृहमंत्री असादुज्जमान खान कमाल ने कहा कि आरोपी इकबाल लगातार अपनी जगह बदल रहा है।  पुलिस पकड़ से बच जा रहा है। उन्होंने कहा कि इकबाल के गिरफ्तार होते ही हम इस हिंसा का खुलासा कर देंगे।

बांग्लादेश के कई जिलों में भड़की हिंसा के संबंध में अब तक 450 लोगों को अरेस्ट किया गया है। इससे देश के हिन्दुओं में काफी नाराजगी है। सांप्रदायिक हिंसा के 72 मामले दर्ज किए गए हैं। इस हिंसा के दौरान हजारों की संख्या में हिंदुओं के घरों और दुकानों को लूट लिया गया। कई मंदिर और दुर्गा पूजा पंडाल बुरी तरह से बर्बाद हो गये। पंडाल में आराधना के लिए रखी गयीं दुर्गा प्रतिमा को तोड़ा गया। इस बीच अमेरिका के धार्मिक स्वतंत्रता आयोग ने बांग्लादेश की घटना पर गहरी चिंता जताई है। उसने पीएम शेख हसीना से अपील की है कि वे दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करें। बांग्लादेश की कुल आबादी में करीब 10 फीसदी हिंदू हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *