Breaking News

बदलता मौसम यानी वायरल इंफेक्शन का खतरा, इन टिप्स को अपनाकर खुद को रखें फिट

धीरे धीरे मौसम बदलता दिखाई दे रहा हे, ऐसे में इसका असर सबसे पहले हमारे स्वास्थ्य पर पड़ने लगता है। आज बहुत से लोग सर्दी -जुकाम, बुखार, बदन दर्द, खांसी, गले में दर्द जैसी समस्याओं से जूझ रहे हैं। आपको भी अगर ऐसे ही लक्षण दिखाई दे रहे है, तो अभी से सावधान हो जाइए। ये वायरल इंफेक्शन के लक्षण हो सकते हैं। इस से बचने के लिए हमारी इम्युनिटी का स्ट्रांग होना बेहद ज़रूरी है। अगर जिन लोगों की इम्युनिटी मजबूत होगी, उन लोगों पर इस बदलते मौसम का  असर नहीं होता और ऐसे लोग वायरल इंफेक्शंस से भी बचे रहते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको कुछ टिप्स बताने वाले हैं, जिनकी मदद से आप खुद को वायरल इंफेक्शन से दूर रख सकते हैं..

हल्दी

आपको अगर बदन दर्द, नाक बंद, हल्का बुखार जैसा लग रहा हैं, हल्दी इस में असरकारक है। एक गिलास गर्म दूध में थोड़ी सी हल्दी डालकर उसे पी लें। आप हल्दी और शहद का पेस्ट तैयार करके इसको खा भी सकते हैं। हल्दी में एंटीवायरल और एंटीऑक्सिडेंट्स के गुण होते हैं, जो इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करते हैं और इससे हम वायरल इंफेक्शन से बचे रहते हैं।

अदरक

गले में दर्द हो, जुकाम, खांसी के लक्षण दिखाई दे रहे हैं, तो अदरक का सेवन फायदेमंद होता है। एक कप पानी में अदरक उबालकर उसका पानी पी लें। अदरक वाली चाय भी खांसी जुकाम में काफी आराम पहुंचाती है। अदरक के एंटी-वायरल गुण से हम वायरल इंफेक्शन से दूर रहते हैं।

काली मिर्चघी और मिश्री

जुखाम, खांसी, वायरल से बचने के लिए एक छोटे बर्तन में चार चम्मच घी लें और उसमें 10 काली मिर्च और थोड़ी मिश्री पीस कर डाल लें। फिर इस मिश्रण को धीमी आंच पर गर्म करें, गुनगुना होने पर एक चम्मच इसका सेवन कर लें, दिन में दो बार इसे पीने से राहत मिलेगी।

तुलसी का काढ़ा

तुलसी पूजा करने के साथ साथ आपकी सेहत के लिए भी फायदेमंद हैं। तुलसी में  एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल के गुण  होते है। अगर आप तुलसी के काढ़े का सेवन करते हैं, तो ये आपको फायदा पहुंचाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *