Breaking News

बढ़ सकता है उत्तराखंड रोडवेज बसों का किराया, राज्य परिवहन प्राधिकरण को भेजा प्रस्ताव

उत्तराखंड रोडवेज बसों का किराया तीस फीसदी तक बढ़ सकता है। रोडवेज प्रबंधन ने 35 से 40 पैसे प्रति किलोमीटर तक किराया बढ़ाने का प्रस्ताव राज्य परिवहन प्राधिकरण (एसटीए) को भेज दिया है। रोडवेज ने इसके लिए डीजल और वाहनों के पाट्र्स की महंगाई का हवाला दिया है।

अभी यह है रोडवेज बसों का किराया वर्तमान में मैदानी मार्ग पर रोडवेज बसों का एक रुपये 26 पैसे प्रति किमी किराया तय है। जबकि, पहाड़ी मार्गों पर एक रुपये 72 पैसे प्रति किमी यात्री किराया लिया जा रहा है।

यात्री वाहनों के किराये की रिपोर्ट कल तक बनेगी: आरटीओ प्रशासन दिनेश पठोई ने बताया कि निजी वाहन बस, टैक्सी मैक्सी कैब, ऑटो रिक्शा और सिटी बसों का किराया, भारी वाहनों का मालभाड़ा और चारधाम का किराया तय करने की रिपोर्ट लगभग तैयार हो चुकी है।

रोडवेज बसों का किराया फरवरी 2020 से नहीं बढ़ा है। हमने यात्री किराये में 30 फीसदी बढ़ोतरी का प्रस्ताव एसटीए और परिवहन सचिव को भेज दिया है। इस पर फैसला एसटीए को ही लेना है। दीपक जैन, जीएम-संचालन, रोडवेज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *