Breaking News

फेफड़ों को मजबूत बनाए रखने के लिए रोजाना करें ये 4 वर्कआउट्स

अगर आप फिजिकली एक्टिव हैं तो आपके फेफड़े भी हेल्दी रहेंगे क्योंकि मसल्स की एक्सट्रा ऑक्सीजन की डिमांड पूरी करने के लिए रेस्टिपरेट्री ट्रैक्ट्स को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। कोरोनावायरस के इस दौर में फेफड़ों को मजबूत रखना और भी जरूरी हो जाता है। जानिए इसके कुछ तरीके

1. आर्म कर्ल

इस एक्सरसाइज को करने के लिए आप हैंड वेट, स्ट्रेच बैंड या पानी की बोतल जैसी सिंपल चीज़ों का यूज़ कर सकते हैं। आपको बस अपनी हथेलियों को आगे रखते हुए वजन साइज में पकड़ना होगा। सांस लें और वजन छाती के ओर ऊपर उठाएं। कोहनियों को नीचे की ओर रखें और धीरे-धीरे सांस छोड़े। उसके बाद, धीरे-धीरे अपने आर्म्स को नीचे ले जाएं और सांस लेते रहें। 10-12 रेप्स के दो सेट लगाएं।

2. पुशिंग आउट

इसे करने के लिए सीधी पोजीशन में खड़े होते हुए अपने घुटनों को ढीला करें। फेफड़ों से सारी हवा बाहर निकालते हुए नीचे झुकें। फिर सांस लेते हुए वापस खड़े होने की पोजीशन में पहुंचें। जितना पॉसिबल हो सके, फेफड़ों में हवा करने की कोशिश करें और जब तक सांस रोक सकते हैं, रोकें। आपके हाथ सिर के ऊपर होने चाहिए और सांस छोड़ते हुए वापस पहले वाली पोजीशन में आएं। इसको रोज 3-5 बार करें। स्किपिंग यानी रस्सी कूदना भी दिल, फेफड़ों और सर्कुलेट्री सिस्टम को हेल्दी रखने में मदद करता और एंड्योरेंस बढ़ाता है।

3. ब्रीदिंग एक्सरसाइज

इससे फेफड़ों से चिपचिपे बलगम को साफ करने में मदद करती हैं। सांस लेने की सिंपल प्रैक्टिस करके कोई भी इसको शुरू कर सकता है। इसको करने के लिए आप 5-10 बार गहरी सांस लें। फिर एक-दो बार जोर से खांसें और इस प्रोसेस को दोहराएं। गहरी सांस लेना अच्छा होता है क्योंकि यह फेफड़ों की गहराई में हवा पहुंचाने का काम करती है। आप डायाफ्रैग्मैटिक ब्रीदिंग भी कर सकते हैं। इसे करने के लिए बस अपने कंधों को आराम दें और वापस बैठें या एक हाथ अपने पेट पर और दूसरा अपनी छाती पर रखकर लेटें। दो सेकंड के अपनी नामक के जरिए सांस लें। इसके अलावा अपने पेट में हवा को महसूस करें। आपका पेट बाहर निकल आएगा। याद रखें कि पेट छाती से ज्यादा हिलना चाहिए। पेट पर दबाव डालते हुए होठों के जरिए दो सेकेंड तक सांस लेते रहें।

4. स्क्वाट जंप्स

इसे करने के लिए पैरों को कंध की चौड़ाई में फैलाकर नॉर्मल स्क्वाट पोजीशन में आएं। जैसे ही आप नीचे जाने वाला मोशन करें, तुरंत हवा में कूदें। जब आप नीचे आएं तो बॉडी को स्क्वॉट पॉश्चर में वापस लाएं। वर्कआउट के दौरान आपको एक स्टेडी पेस बनाने पर भी ध्यान देना होगा। आप इसके 10-10 रेप्स के दो से तीन सेट करें। यह आपके फेफड़ों को उनकी कैपेसिटी बढ़ाने के लिए ट्रेन करेगा, जो आपको ज्यादा ऑक्सीजन लेने में मदद करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *