Breaking News

पाकिस्तानः पूर्व कप्तान का बड़ा खुलासा, बोले- रिटायरमेंट के बाद लग गई थी कोकिन की लत

पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व कप्तान और महान तेज गेंदबाज (fast bowler) वसीम अकरम (Wasim Akram) ने खुलासा किया है कि वह अपने खेल करियर (after sports career) के अंत के बाद कोकीन (cocaine) के आदी थे, लेकिन अपनी पहली पत्नी की मृत्यु के बाद उन्होंने इसे छोड़ दिया। 1992 के विश्व कप विजेता खिलाड़ी (1992 world cup winners) ने 2003 में रिटायरमेंट लेने से पहले 900 से अधिक अंतरराष्ट्रीय विकेट लिए थे। वसीम इसके बाद दुनिया भर में एक क्रिकेट एक्सपर्ट के रूप जाने गए और इसी काम को करते हुए वह कोकीन का उपयोग करने लगे थे।

एक साक्षात्कार में 56 वर्षीय वसीम ने खुलासा किया कि उन्होंने अपनी नई आत्मकथा में एडिक्शन के बारे में उल्लेख किया है। बाएं हाथ के पूर्व तेज गेंदबाज ने अपनी पहली पत्नी हुमा के निस्वार्थ कार्य का भी उल्लेख किया, जिनकी 2009 में एक दुर्लभ फंगल इंफेक्शन से अचानक मौत हो गई थी। उन्होंने कहा, “हुमा अपने आखिरी समय में भी निस्वार्थ रूप से मेरे साथ थी और मुझे मेरी ड्रग की समस्या से निजात दिलाना चाह रही थी। जीवन का वह तरीका समाप्त हो गया था और मैंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।”

1984 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट (international cricket) में पदार्पण करने के बाद वसीम अकरम ने पाकिस्तान के लिए 104 टेस्ट और 356 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेले। उन्होंने टीम के साथ 1992 विश्व कप भी जीता। उन्होंने 1993 और 2000 के बीच 25 टेस्ट और 109 एकदिवसीय मैचों में पाकिस्तान का नेतृत्व भी किया था। उन्हें अब तक के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में से एक माना जाता है।

अकरम के अनुसार, जब वह हुमा और उनके दो बेटों से दूर जा रहे थे, जो मैनचेस्टर में रह रहे थे, तब वे कोकीन पर निर्भर रहते थे। उन्होंने खुलासा करते हुए कहा, “यह थोड़ा-थोड़ा करके शुरू हुआ था, जब मुझे इंग्लैंड में एक पार्टी में इसकी पेशकश की गई; इसके बाद मैं इसका उपयोग लगातार और अधिक मात्रा में करता गया, इस हद तक कि मुझे लगा कि मुझे काम करने के लिए इसकी आवश्यकता है।”

वसीम ने आगे बताया, “हुमा, मुझे पता है, इस समय अक्सर अकेली रहती थी, वह कराची जाना चाहती थी, ताकि अपने माता-पिता और भाई-बहनों के करीब रह सके, लेकिन मैं ऐसा कतई नहीं चाहता था। अंदर से मेरा मन भी कराची जाने का होता था, लेकिन मैं यह दिखावा करता था कि काम की वजह से मैं वहां नहीं जा पा रहा हूं, जबकि इसकी असली वजह इंग्लैंड में पार्टी करने की होती थी।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *