Breaking News

पांच साल में दोगुनी संपत्ति जुटाने वालों पर छापा पड़े तो सपा को दर्द होता है: योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुये कहा कि जब अपराधी तत्वों के खिलाफ कार्रवाई होती है तो इन दलाें के नेताओं को पीड़ा होती है।

योगी ने रविवार को यहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) जनविश्वास यात्रा को रवाना करते हुये कहा, “कल मैं देख रहा था आयकर विभाग के छापे पड़ रहे थे, तो सपा को दर्द हो रहा था। पांच साल में किसी की संपत्ति दो गुना कैसे हो जाती है, ये सब सपा की सत्ता में हो सकता था। ये चोर की दाढ़ी में तिनका ही है,जो इनकी छटपटाहट को बताता है।”

मुख्यमंत्री योगी ने कहा, “इन लोगों को फ्री राशन, फ्री वैक्सीन जनता को देना अच्छा नहीं लगता। दंगाइयों, अपराधियों और माफियाओं पर होने वाली कार्रवाई उन्हें अच्छी नहीं लगती। उन्हें दंगाइयों और आतंकवादियों को गले लगाना अच्छा लगता है।”

योगी ने दावा किया कि उनकी सरकार के कार्यकाल में उत्तर प्रदेश मेें कोई दंगा नहीं हुआ और ना ही किसी को दंगों के कारण पलायन करना पड़ा। उन्होंने कहा, “हमारी सरकार के पांच वर्ष पूरे हो रहे हैं, कोई भी दंगा नही हुआ,कोई भी पलायन नही हुआ।” उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति सुधरने के कारण पहले जो लोग पलायन कर गये थे वे लोग वापस आये हैं। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि उनकी सरकार में पलायन हुआ तो पेशेवर अपराधियों, माफियाओ और दंगाइयों का हुआ। इसीलिए सपा बसपा को पीड़ा हो रही है।”

उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के उस वक्तव्य को भी गलत तरीके से प्रचारित करने का आरोप लगाया जो उन्होंने शुक्रवार को शाहजहांपुर में देते हुये विकास कार्यों के लिये उत्तर प्रदेश सरकार की सराहना करते हुये दिया था। योगी ने कहा, “कल शाहजहांपुर में प्रधानमंत्री ने गंगा एक्सप्रेस वे का शिलान्यास किया, लेकिन जिनको प्रदेश का विकास अच्छा नही लगता उंन्होने ही प्रधानमंत्री के वक्तव्य पर गलत ट्वीट किया। जिन लोगो के पास संकुचित बुद्धि है वो विकास के मॉडल को कभी स्वीकार नही करेंगे।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *