Breaking News

दूल्हे ने वापस किए दहेज के 11 लाख, सिर्फ 1 रुपये के शगुन पर घर लाया दुल्हन

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में हुई एक शादी इन दिनों काफी चर्चा में है. सरकारी नौकरी वाले दूल्हे ने अपनी शादी में कुछ ऐसा कर दिया, जिसे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे. रेवेनुए ऑफिसर (लेखपाल) दूल्हे ने लड़की के माता-पिता से दहेज में मिल रहे 11 लाख रुपये और गहनों को वापस लौटा दिया. उसने शगुन के तौर पर सिर्फ एक रुपये स्वीकार किया और रिटायर्ड फौजी की बेटी से शादी रचाई. अब दूल्हे की इस पहल की हर कोई जमकर तारीफ कर रहा है. स्थानीय लोगों का कहना है कि शादियों में होने वाली इस तरह की फिजूलखर्ची को रोका जाना चाहिए.

पीटीआई की एक रिपोर्ट में मुताबिक, दूल्हे का नाम सौरभ चौहान है और वह लेखपाल है, जबकि दुल्हन प्रिंसी लखन गांव की रहने वाली है और रिटायर्ड फौजी की बेटी है. शुक्रवार शाम बारात लखन गांव पहुंची थी. स्थानीय लोगों का कहना है कि दूल्हे ने काफी सराहनीय कदम उठाया है. उन्होंने समाज के सामने एक मिसाल पेश की है. लोगों का मानना है कि शादी समारोह में जो फिजूलखर्ची होती है उस पर रोक लगाई जानी चाहिए.

दुल्हन के परिवा ने भी की दूल्हे की तारीफ
दुल्हन के परिजनों ने भी दूल्हे के इस कदम की जमकर तारीफ की है. उनका कहना है कि रूढ़िवादी समाज और सोच के सामने सौरभ ने एक मिसाल पेश की है. दूल्हे ने समाज को एक नई राह दिखाने का काम किया है. परिवार का कहना है कि दूल्हन प्रिंसी ने मेडिकल की पढ़ाई की है. उनके पिता सेना से रिटायर्ड हुए हैं.

अक्सर देखने को मिलता है कि शादियों में भारी भरकम दहेज की डिमांड की जाती है. अगर लड़का अच्छे पद पर हो या सरकारी नौकरी वाला हो तो लड़की के परिवार से बड़ी रकम देने को कहा जाता है. ऐसे लोगों को मुजफ्फरनगर के सौरभ चौहान से सबक लेने चाहिए. उन्होंने न सिर्फ दहेज में मिले 11 लाख रुपये लौटाए बल्कि गहने भी वापस कर दिया. सिर्फ एक रुपए में उन्होंने शादी की. दूल्हे के इस कदम की अब हर तरफ जमकर तारीफ हो रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *