Breaking News

तौकते का कहर : गोवा, केरल, कर्नाटक, गुजरात में तबाही ज्यादा, सैकड़ों घर उजड़े और सड़कें बंद, मुम्बई में तेज बारिश के साथ अलर्ट

देश के दक्षिण पश्चिम राज्यों पर चक्रवाती तूफान तौकते का कहर शुरू हो गया है। केरल, कर्नाटक और गोवा में तबाही मचाने के बाद तोकते तूफान गुजरात की तरफ बढ़ रहा है। अब तक तूफान से प्रभावित इलाकों में 8 लोगों की मौत हो गई है जबकि कई सौ पेड़ गिरे हैं। साथ ही घरों को भी नुकसान पहुंचा है। तूफान के साथ ही भारी बारिश शुरू हो गयी है। आपदा से निपटने के लिए एनडीआरएफ की 50 टीमें तैनात की गई हैं।

गुजरात के कच्छ में तूफान से तबाही की आशंका को देखते हुए प्रशासन अलर्ट पर है। साथ ही तटीय इलाकों के मछुआरों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान तौकते 17 मई की शाम या 18 मई को गुजरात के समुद्री तट से टकरा सकता है। यह तूफान 24 घंटे में और भी खतरनाक हो सकता हैं। 18 मई की सुबह तक चक्रवात तौकते पोरबंदर और महुवा के बीच से गुजरात तट को पार करेगा।

मुंबई में तेज हवाओं के साथ बारिश
मुंबई में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मुंबई के वडाला में चक्रवात तौकते का प्रभाव के तेज हवाएं चल रही हैं। तूफान के खतरे के बीच मुंबई में 5 जगह अस्थायी शेल्टर होम बनाए गए हैं। पश्चिमी मुंबई में एनडीआरएफ की 3 टीम और बाढ़ से बचाव के लिए फायर ब्रिगेड की 6 टीमें भी तैनात की गई हैं।
गोवा में भी तूफान ने कहर बरपाया है। अलग-अलग हादसों में 2 लोगों की मौत हो गई है। गोवा में तूफान की वजह से आज सभी उड़ानें रद्द हैं। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के ने बताया कि तूफान में 100 घर बुरी तरह तबाह हुए हैं जबकि कई अन्य घरों को मामूली क्षति पहुंची है। गोवा में तूफान की वजह से करीब 500 पेड़ गिरने से जगह-जगह पर रास्ते बंद पड़े हैं।

केरल में भी तूफान के असर से कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है। अलप्पुझा में भारी बारिश के कारण निचले इलाकों में भर गया है। तटीय इलाके के लोगों को समुद्र से दूर रहने को कहा गया है। कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ जिले में तौकते तूफान ने जमकर तबाही मचाई है। उडुपी में 4 लोगों की मौत हो गई जबकि उत्तर कन्नड़ जिले में तूफान की तबाही में 71 घर तबाह हुए हैं। मछुआरों की 76 बोट भी क्षतिग्रस्त हुई हैं। 270 से ज्यादा बिजले के खंभे गिरने बिजली व्यवस्था चरमरा गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *