Saturday , September 26 2020
Breaking News

ट्रंप अपने सबसे बड़े लड़ाके को भेज रहा है हिंदुस्‍तान, चीन और पाकिस्तान में छाया मातम

राफेल के सदमे से ड्रैगन अब तक बाहर निकल नहीं पाया कि उसे एक और झटका लग गया। LAC पर रेड आर्मी की साजिश को समझते हुए ट्रंप ने अपने सर्व शक्तिमान को हिंदुस्तान भेजने का फैसला किया है। रण क्षेत्र का ये रणवीर इतना खौफनाक है कि चंद सेकंड में ही लाल सेना को नेस्तानाबूत कर देगा।

एयर बैटल फील्ड का हिंदुस्तानी योद्धा ‘रणविजय’ राफेल तो पहले ही मोर्चा संभाल चुका है, लेकिन अब उसका साथ देने के लिए अमेरिका से दो फाइटर जेट F-35 और F-21 भारतीय सेना की ताकत बढ़ाने वाले हैं, जिससे ड्रैगन सेना में जबरस्त हड़कंप मच गया है। सुपर पॉवर के सबसे बड़े लड़ाके की हिंदुस्तान में एंट्री ने ड्रैगन के होश उड़ा दिए हैं। सर्व शक्तिमान फाइटर जेट के बारूदी ट्रेलर से पहले ही चीन ने सरहद पर हथियार डाल दिए हैं। अमेरिका की वायुसेना की शान माने जाने वाले F-35 लड़ाकू जेट को लेकर जब से ये खबर सामने आई है कि जल्द ये आसमानी योद्धा हिंदुस्तान की शान बन सकता है, तब से चीन और पाकिस्तान में मातम छा गया है। दोनों देशों को विश्वास नहीं हो रहा है कि पहले राफेल और अब अमेरिकी विश्वंसक F-35 हिंदुस्तान की सरजमीं पर अपने कदम रखने वाला है।

गलवान से लद्दाख तक चीन के साथ चल रहे तनाव के बीच अमेरिका से एक बहुत अच्छी खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि F-35 सुपर सोनिक फाइटर जेट बनाने वाली अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन जल्द भारत के साथ डील कर सकती है। चीन के साथ चल रहे विवाद को देखते हुए भारत अब अमेरिकी जांबाज F-35 को खरीद सकता है और चीन की चालबाजी को देखते हुए अमेरिका भी भारत को F-35 लड़ाकू विमान देने को राजी हो चुका हैं।

चीन में F-35 का खौफ क्यों ?

दुश्मन के रडार को चकमा दे सकता है

सिंगल सीट-सिंगल इंजन विमान है

किसी भी मौसम में उड़ान भरने में सक्षम

हवा से हवा और जमीन पर मार करने वाली मिसाइल

910 किलो के 6 बम ले जाने में सक्षम

1930 किमी./घंटा की रफ्तार से उड़ान भर सकता है

पांचवीं पीढ़ी के F-35 फाइटर जेट इतना ताकतवर होने के बावजूद दुश्मनों को बड़ी आसानी से चकमा देकर अदृश्य होने में माहिर है।

आसमान में ‘सबसे बड़ा लड़ाका’

आकार और फाइबर मैट की वजह से जेट दुश्मनों की नजर से गायब हो जाता है

हर मौसम में दुश्मन को करारा जवाब देने में सक्षम है

साथ ही मशनरी वैपन, मशीनगन के साथ-साथ हवा से हवा और जनीन पर मार कर सकता है

जंग के मैदान में रफ्तार सबसे अहम होती है। तूफान की तरह रफ्तार का सिकंदर ये लड़ाकू विमान 1930 किमी/घंटे की स्पीड से दुश्मन के इलाके में पहुंच कर टारगेट को नेस्तानाबूत कर देगा

जैसे ही अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन के साथ भारत की डील फाइनल हो जाएगी तो F-35 फाइटर जेट हिंदुस्तान में आसमान में उड़ान भरता हुआ दिखाई देगा। फिर लद्दाख से लेकर अरुणाचल तक चीन की साजिश पर ब्रेक लग जाएगा। जबसे राफेल ने हिंदुस्तान की सरजमीं पर कदम रखा है, चीन और पाकिस्तान दोनों ही जगह हड़कंप है। लेकिन अब ट्रंप अपने सबसे बड़े लड़ाके को हिंदुस्तान भेजने वाले हैं, जो चुन-चुनकर दोनों दुश्मनों पर वार करेगा। अमेरिकी F-35 विमान के भारत आने की खबर जबसे जिनपिंग और इमरान के कानों में पड़ी है, दोनों की नींद खराब हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *