Breaking News

जिग्नेश मेवाणी ने हार्दिक पटेल पर कसा तंज, कही यह बात

अहमदाबाद: गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रहे हार्दिक पटेल ने पार्टी छोड़ने का ऐलान करते हुए शीर्ष नेतृत्व और प्रदेश के नेताओं पर जमकर हमला बोला था. हार्दिक पटेल के बयानों पर अब उनके पुराने साथी जिग्नेश मेवाणी ने पलटवार किया है. जिग्नेश मेवाणी ने हार्दिक पटेल और सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर जमकर हमला बोला. जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि बीजेपी जिस तरह से देश में हिंदू-मुस्लिम को बांटने का काम कर रही है, कांग्रेस महंगाई, रोजगार जैसे मुद्दों को लेकर देश को जोड़ने का काम कर रही हैं. उन्होंने कहा कि हार्दिक पटेल को जेल जाने का डर सता रहा है. इसीलिए वे आइडियोलॉजी से समझौता कर रहे हैं. उन्होंने ये सवाल भी उठाया कि हार्दिक पटेल के मन में अडानी और अंबानी के लिए अचानक इतना प्यार कैसे जग गया.

जिग्नेश ने कहा कि राहुल गांधी के लिये स्टेट लीडरशिप की ओर से चिकन सैंडविच पहुंचाए जाने की चिंता की बात जिस तरह से कही गई है, वो बिलो द बेल्ट जाकर कही गई है. हार्दिक पटेल से इस तरह की उम्मीद नहीं थी. उन्होंने हार्दिक पटेल पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का मनोबल तोड़ने की कोशिश का आरोप लगाया और कहा कि हमारा मनोबल टूटेगा नहीं. साफ करना चाहता हूं कि कांग्रेस के साथ हूं और कांग्रेस के साथ ही रहूंगा. लाखों लोगों को कांग्रेस के साथ जोड़ भी लूंगा.

जिग्नेश ने कहा कि कांग्रेस से विचारधारा के साथ जुड़ा हूं जिसे कोई बदल नहीं सकता. उन्होंने कहा कि पिछले एक महीने से हार्दिक पटेल के बीजेपी में शामिल होने की बातें चल रही हैं. अगर ऐसा है तो विचारधारा पर ही सवाल उठेगा. जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि हार्दिक पटेल आंदोलन के, संघर्षों के साथी थे. उन्होंने कहा कि दूसरे लोगों ने भी कांग्रेस छोड़ा. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी तक हार्दिक पटेल की सीधी पहुंच थी. राहुल गांधी ने हार्दिक पटेल को स्टार प्रचारक बनाया. जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि हार्दिक पटेल ने जिस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया है, वह उनकी छोटी सोच को दर्शाता है.

हार्दिक पटेल पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि पाटीदार समाज को सरकार ने ऐसे ही आरक्षण नहीं दे दिया. पाटीदार आरक्षण के लिए आंदोलन करना पड़ा. इसके लिए 14 पाटीदार युवाओं की जान गई थी. जिग्नेश मेवाणी ने आरोप लगाया कि हार्दिक पटेल आइडियोलॉजिकली समझौता कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि हार्दिक के खिलाफ 32 मामले दर्ज हैं. उन्होंने कहा कि अगर सरकार हार्दिक पटेल के कहने पर पाटीदार आंदोलन के दौरान दर्ज केस वापस ले रही है तो दलित आंदोलन के दौरान दर्ज केस भी वापस लिए जाने चाहिए. जिग्नेश ने इसे लेकर आने वाले समय में आंदोलन करने के संकेत भी दिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *