Breaking News

जब गृहमंत्री ने पूछा सुशांत मामले में पांच महीने के सीबीआई का काम

बाॅलीवुड में वर्ष 2020 उत्साहजनक नहीं रहा। 14 जून को अभिनता सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई स्थित अपार्टमेंट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी जिसके बाद उनकी मौत को लेकर हंगामा खड़ा हो गया। सुशांत की मौत से देशभर के लोगों को बड़ा झटका लगा था। एक खुशहाल अभिनेता जो अपने बढ़िया काम और खुश मिजाज अंदाज के लिए जाना जाता था। सुशांत का यूं दुनिया छोड़ देना सभी के लिए भी चैंकाने वाला था। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले पर कई सवाल उठे थे और उनके परिवार से शक जताया था कि किसी ने उनकी हत्या की है। सुशांत मामले में विवाद को देखते हुए सीबीआई को केस सौंप दिया गया। सुशांत मामले की जांच मुंबई पुलिस ने की थी और उन्हें इसमें मर्डर जैसा कुछ नहीं मिला था। सुशांत को न्याय दिलाने की मुहीम सोशल मीडिया पर शुरू हो गई थी और फैन्स ने मांग की कि मुंबई पुलिस के बजाए सीबीआई से सुशांत मामले की तहकीकात करवाई जाए जिससे सच सामने आ सके।

अब सीबीआई की जांच को शुरू हुए पांच महीने हो गए हैं लेकिन सुशांत मामले में कोई अपडेट सामने नहीं आई है। ऐसे में महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने सवाल उठाते हुए पूछा कि पांच महीने की जांच का परिणाम क्या रहा।
महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सुशांत मामले पर बात की। उन्होंने सीबीआई की जांच पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस जांच को शुरू हुए 5 महीने हो गए हैं और अभी तक यह बात साफ नहीं हुई है कि सुशांत का मर्डर हुआ था या फिर उन्होंने आत्महत्या की थी। उन्होंने कहा कि इस जांच में सीबीआई को जो भी जानकारी मिली है। उसका खुलासा जल्द से जल्द किया जाये। गृहमंत्री के सवाल किये जाने पर सोशल मीडिया पर कमेंट आने शुरू हो गये।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में बॉलीवुड माफिया, नेपोटिज्म और ड्रग्स कनेक्शन जैसी बातें निकलकर आ रही थीं। ड्रग्स कनेक्शन को लेकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने बॉलीवुड के नामी सितारों को घेरा है तो वहीं बॉलीवुड में माफिया और नेपोटिज्म गैंग्स के बारे में सोशल मीडिया पर काफी हंगामा हुआ था। सुशांत की मौत की वजह से एक बार फिर नेपोटिज्म डिबेट शुरू हुई और इसके चलते फैन्स और अन्य सिनेमा के दीवानों ने बॉलीवुड के सितारे और स्टार किड्स को बहिष्कार भी किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *