Breaking News

चीन से टेंशन के बीच ताइवान को बड़ा झटका, रक्षा मंत्रालय के अधिकारी की मिली लाश

चीन-ताइवान संकट अब गहराने लगा है. चीन से टेंशन के बीच ताइवान को बड़ा झटका लगा है. ताइवान के मिसाइल डवलपमेंट के चीफ ऑफिसर होटल के कमरे में मृत पाए गए हैं. हालांकि उनकी मौत के कारणों का पता नहीं चल सका है. लेकिन उनकी मौत ऐसे समय हुई है, जब चीन लगातार ताइवान को घेर रहा है, और एक के बाद एक लाइव फायर ड्रिल कर रहा है.

एजेंसी के मुताबिक ताइवान के रक्षा मंत्रालय के रिसर्च औऱ डवलपमेंट यूनिट के डिप्टी हेड ओ यांग ली-हिंग की मौत हुई है. वहीं ताइवान के रक्षा मंत्रालय का बड़ा बयान सामने आया है. ताइवान ने कहा है कि चीन मुख्य द्वीप पर लगातार हमले की कोशिश कर रहा है. चीन की ओर से कई मिसाइलें दागी गई हैं.

ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि चीन के फाइटर जेट ताइवान की मध्य रेखा को पार कर रहे हैं. चीन के लड़ाकू विमानों को इस ओर आते हुए देखा गया है. मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि उन्हें ताइवान के मुख्य द्वीप पर चीन लगातार मिसाइल दाग रहा है.

US स्पीकर नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा के बाद चीन भड़का हुआ है. लिहाजा चीन ने आक्रामक सैन्य अभ्यास शुरू कर दिया है. इतना ही नहीं, चीन ने नैंसी की यात्रा का भी विरोध किया था.

चीन की बौखलाहट का आलम ये है कि उसने युद्धाभ्यास के नाम पर ताइवान के चारों ओर पूरी ताकत झोंक दी है. 11 बेलिस्टिक मिसाइल दागी तो 5 जापान के इलाके में जा गिरीं. इतना ही नहीं, चीन ने पानी के अंदर मिसाइल दागीं, जो कि जापान की सीमा से करीब 100 मील दूर दागी गईं.

सवाल ये आखिर चीन ताइवान के साथ जापान को क्यों छेड़ रहा है. दरअसल, ये कोई गलती नहीं बल्कि जानबूझकर उठाया गया ड्रैगन का कदम हैं. क्योंकि जिस वक्त चीन ये गुस्ताखी कर रहा था, उस वक्त अमेरिकी हाउस स्पीकर नैंसी पेलोसी जापान में थीं. जहां वो ताइवान की बात कर रही थीं. ड्रैगन को कटघरे में खड़ा कर रही थीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *