Breaking News

चीन ने घोषित की हांगकांग के नए नेता जॉन ली की कैबिनेट, एरिक चैन बने मुख्य सचिव

चीन ने रविवार को हांगकांग के नए प्रशासक बनने वाले नेता जॉन ली की कैबिनेट घोषित कर दी. ली को हांगकांग के प्रशासक के रूप में 1 जुलाई को शपथ दिलाई जाएगी. चीन शासित यह वित्तीय केंद्र, इसी दिन ब्रिटेन से अपनी आजादी की 25 वीं वर्षगांठ मनाएगा.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ और हांगकांग सरकार की सूचियों से पता चला है कि वित्त सचिव पॉल चैन का पद बरकरार रखा गया है, जबकि पॉल लैम को टेरेसा चेंग की जगह नया न्याय सचिव बनाया गया है. एरिक चैन हांगकांग के नए मुख्य सचिव होंगे, यानी जॉन ली के नेतृत्व वाले प्रशासन में उनकी भूमिका नंबर 2 की होगी.

हांगकांग के कुछ मीडिया आउटलेट्स की मानें तो चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के हांगकांग में जॉन ली के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने की उम्मीद है, लेकिन यह पुष्टि नहीं की गई है कि मेनलैंड के अन्य वरिष्ठ नेता इस आयोजन में शामिल होंगे या नहीं. हांगकांग 1997 तक एक ब्रिटिश उपनिवेश हुआ करता था.

यहां फिलहाल हाई अलर्ट है, क्योंकि हाल ही में COVID-19 संक्रमण के मामले बढ़कर 1,000 से अधिक हो गए हैं. हालांकि शपथ ग्रहण से पहले अभी तक कड़े प्रतिबंधों का कोई संकेत नहीं है. हालांकि, विदेश से आले वाले यात्रियों के लिए कम से कम एक सप्ताह के होटल क्वारंटीन और हजारों लोगों के लिए दैनिक कोरोना परीक्षण अनिवार्य है.

चीन के वफादार हैं हांगकांड नए नेता बनने जा रहे जॉन ली
पिछले महीने जॉन ली हांगकांग के नए नेता चुने गए थे. वह चीन के वफादरों में से एक माने जाते हैं. हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक आंदोलन पर होने वाली कार्रवाई पर नजर रखने के लिए उन्हें चीन ने सुरक्षा प्रमुख भी बनाया था. हांगकांग की चुनाव समिति ने 9 मई को को हुए इलेक्शन में जॉन ली को शहर के अगले मुख्य कार्यकारी के रूप में चुना.

जॉन ली की जीत से माना जा रहा है कि यह हांगकांग पर अपनी पकड़ कायम रखने के लिए चीन का हथकंडा है. चुनाव समिति में करीब 1,500 सदस्य शामिल थे, जिनमें से अधिकतर चीन समर्थक थे. 64 वर्षीय जॉन ली इस चुनाव में शामिल इकलौते उम्मीदवार थे और उन्हें समिति के 99 फीसदी से अधिक सदस्यों ने वोट दिया.

जॉन ली 1 जुलाई को हांगकांग के मौजूदा नेता कैरी लैम की जगह लेंगे. ली ने अपने विजयी भाषण में कहा था, ‘मैं हम सभी के एक साथ मिलकर नया अध्याय शुरू करने, ऐसा हांगकांग बनाने के लिए उत्साहित हूं जो सभी की देखभाल करता हो, मुक्त और जीवंत हो. एक ऐसा हांगकांग बनाना चाहता हूं जहां अवसरों और तालमेल की कोई कमी न हो.’

साल 2021 में हांगकांग के चुनावी कानूनों में बड़े बदलाव किए गए थे, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि केवल बीजिंग के प्रति वफादारी रखने वाले को ही शहर की कमान मिले. हांगकांग में विधायिका को भी पुनर्गठित किया गया था, ताकि विपक्ष की आवाज दबाई जा सके. जॉन ली के पास हांगकांग और ब्रिटेन की नागरिकता थी. साल 2012 में अंडर सेक्रेटरी फॉर सिक्योरिटी नियुक्त होने से पहले उन्होंने ब्रिटेन की नागरिकता छोड़ दी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *