Breaking News

चीन की कंपनियों को छोड़ा पीछे, भारतीय कंपनियों ने मारी बाजी, दिया गारमेंट ब्रैंड ने करोड़ों रुपये के ऑर्डर

दुनिया के बड़े बैंड अब चीन (China) को छोड़ भारत की ओर अग्रसर होने लगे है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीते कुछ महीनों में कई भारतीय कंपनियों (Indian Companies) को दुनिया के बड़े क्लॉथ बैंड से करोड़ों रुपये के ऑर्डर मिले है. अंग्रेजी के अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की छपी खबर में बताया गया है कि हाल में  जर्मन ब्रांड मार्क पोलो ने अपने भारतीय वेंडर वारसॉ इंटरनेशनल को नया ऑर्डर दिया है. वहीं, कार्टर ने भारतीय कंपनी एसपी अपेरल्स को मानव निर्मित फाइबर से कपड़े बनाने का ऑर्डर दिया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया को भारतीय वेंडर वारसॉ इंटरनेशनल के प्रोपराइटर राजा शनमुगम ने बताया कि जब जर्मन ब्रांड मार्क पोलो ने जर्सी सप्लाई के लिए ऑर्डर दिया तो उन्होंने बताया कि ये हमे पता था कि यह ऑर्डर दूसरों आर्डरों से अलग है. इससे पहले चीन में उनकी प्रतिद्वंद्वी कंपनी मार्क पोलो को यह उत्पाद सप्लाई करती थी. उन्होंने कहा कि हमारे पास बहुत बड़ा ऑर्डर है. यह हमारे और देश के लिए इम्तहान की तरह है. अगर हम इनका आर्डर पूरा करने में सक्षम रहे तो कई वैश्विक ब्रांड भारत आएंगे.शनमुगम, तिरुपुर एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन के प्रमुख भी हैं. उनका कहना है कि मुझे इस सीजन में सोर्सिंग में 25% वृद्धि की उम्मीद है.

शनमुगम ने बताया कि इस सीजन (आम तौर पर 1 सितंबर से शुरू होता है) भारत को ग्लोबल ब्रांडों से कई बड़े आर्डर मिलने की संभावना है. हम केवल यही चाहते हैं कि 6 महीने की मोरेटोरियम अवधि बढ़ाई जाए, क्योंकि हम फिर से पटरी पर लौटने के शुरुआती दौर में हैं. हमें सरकार की मदद की जरूरत है.
इसी तरह, कार्टर ने भारतीय कंपनी एसपी अपेरल्स को मानव निर्मित फाइबर से कपड़े बनाने का आर्डर दिया है. यह कंपनी ज्यादातर सप्लाई भारत से पूरा करने के मूड में है. कार्टर दुनिया के सबसे बड़े बेबी वियर ब्रांड में शामिल है. एसपी अपेरल्स के एमडी ने कहा कि यदि यह मौका मिलता है तो यह एक बहुत बड़ा अवसर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *