Breaking News

चीन और पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय सेना हुई तैयार, महज 4 मिनट में PAK में मच सकती है तबाही

भारत इन दिनों अपने पड़ोसी देशों से तनाव का सामना कर रहा है। एक तरफ पाकिस्तान है। जो लगातार अपने आतंकवादियों के सहारे भारत को निशाना बनाता है। तो वहीं, लद्दाख सीमा पर चीन है जिसके साथ लंबे समय से सीमा विवाद जारी है। चिंता की बात ये है कि लद्दाख सीमा पर लगातार चीन और भारत की सेना आमने-सामने है। ऐसे में अब भारत को चीन और पाकिस्तान पर एक साथ अपनी पैनी नजर रखने की जरूरत है और भारत ने इस पर भी काम करना शुरू कर दिया है। दरअसल भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान और चीन को एक साथ जवाब देने की तैयारी शुरू कर दी है ताकि आने वाले समय में अगर इन दोनों देशों की तरफ से हिमाकत की जाए। तो भारत दोनों देशों को मुंहतोड़ जवाब दें।

2-4 मिनट पर पाक पर निशाना
सूत्रों के मुताबिक, लद्दाख में भारतीय वायुसेना का अडवांस एयर बेस पाकिस्तान की सीमा से महज 50 किलोमीटर की दूरी पर है। वहीं, रणनीतिक एयर बेस दौलत बेग ओल्डी महज 80 किलोमीटर की दूरी पर है। ऐसे में अगर अब पाकिस्तान की तरफ से किसी भी तरह की हिमाकत की जाती है या फिर पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों को अंजाम देता है तो वायुसेना की तरफ से पाकिस्तान पर पलक झपकते ही एक्शन लिया जा सकता है। भारतीय वायुसेना अपने दोनों एयर बेस से उड़े लड़ाकू जहाज से महज 2 से 4 मिनट में पाकिस्तान ठिकानों को तबाह कर सकती है। जिसकी तैयारी दिन-रात सेना की तरफ से किया जा रहा है।

सीमा पर सुखोई 30MKI की गर्जना
बता दें कि सीमा पर चल रहे तनाव की वजह से इन दिनों दोनों एयर बेस पर लड़ाकू जहाजों के साथ लड़ाकू हेलिकॉप्टरों, मालवाहक विमान और ट्रांसपोर्ट हेलीकॉप्टरों की आवाजाही बढ़ गई है। इन दिनों सिर्फ दिन में ही नहीं बल्कि रात में भी भारतीय वायुसेना अभ्यास कर रही है। एयर बेस पर सुखोई 30MKI की गर्जना दुश्मनों को डरा रही है। इसके अलावा विशालकाय ट्रांसपोर्ट विमान C-130J, IL-76 और AN-32 लगातार इन एयर बेस समेत पूर्वी लद्दाख में सैनिक, हथियार और राशन की सप्लाई करने में जुटे हैं। जिस वजह से आशंका जताई जा रही है कि अगर चीन के साथ युद्ध की स्थिति बनती है और उसमें पाकिस्तान भारत के खिलाफ कदम उठाता है। तो दोनों देशों का एक साथ जवाब दिया जा सके।

पाक और चीन पर सेना की नजर
वायुसेना के एक फ्लाइट लेफ्टिनेंट रैंक के अधिकारी का कहना है कि पाकिस्तान ऐसी हरकतें कर सकता है लेकिन अगर वो ऐसी हिमाकत करने की कोशिश करता है तो भारत की तरफ से करारा जवाब दिया जाएगा। इसी वजह से हम हर परिस्थिति के लिए पूरी तरह प्रशिक्षित और तैयार है। अगर चीन और पाकिस्तान मिलकर भारत पर हमला करते है तो भारत भी इन दोनों देशों को सबक सिखाकर रहेगा। वहीं, वायुसेना के अधिकारी ने लद्दाख की ठंड और कठिन पहाड़ी को जवानो के लिए एक चुनौती बताया। उन्होंने कहा कि हम इस इलाके के लिए पूरी तरह ट्रेंड है। सिर्फ दिन ही नहीं बल्कि किसी स्ट्राइक को रात में भी अंजाम दे सकते है। हमारी पाकिस्तान और चीन पर पूरी नजर है दुश्मन के मंसूबों को हम कामयाब नहीं होने देंगे।

आपको बता दें कि लद्दाख में दौलत बेग ओल्डी एयर बेस श्योक नदीं के किनारे पर है। गलवान नदीं श्योक नदी से ही मिलती है। जो पूर्वी लद्दाख में बहती है। गलवान नदी की घाटी में 15 जून की रात को चीनी सेना और भारतीय जवानों के बीच खूनी झड़प हुई थी। जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। जबकि चीन के करीब 50 सैनिक मारे गए थे। इस झड़प के बाद ही चीन और भारत का तनाव चरम पर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *