Breaking News

चिराग ने फिर साधा नीतीश पर निशाना, कहा- पीएम बनने के लिए अलग राह पर चलने की तैयारी कर रहे हैं नीतीश कुमार

लोक जनशक्ति पार्टी(रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag paswan)ने नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर निशाना साधा है. चिराग ने कहा है कि नीतीश कुमार पीएम (Pm) बनने का सपना देख रहे हैं. और इसके लिए वो गठबंधन से बाहर जाने का बहाना ढूंढ रहे हैं.
चिराग ने कहा की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार केवल बहाना खोज रहे हैं, किस तरह प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के सामने आकर प्राइम मिनिस्टर मटेरियल बनें. चिराग नेकहा कि यह कोई छुपी बात भी नहीं है. पहले भी उनकी पार्टी अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में यह प्रस्ताव पारित कर चुकी है.

नीतीश कुमार को बनना है PM उम्मीदवार

चिराग ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद ही उन्होंने कहा था यह गठबंधन ज्यादा दिनों तक नहीं चलने वाला है. क्योंकि दोनों पार्टी किसी मुद्दे पर साथ नहीं है. चिराग ने कहा कि जिस व्यक्ति को प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बनना हो वह बहाना खोजेगा ही. जिस तरह जातीय जनगणना की बात हो या पेगासस का मामला हो हर विषय पर दोनों दलों में विरोधाभास है जो यह दिखाता है की मुख्यमंत्री अपनी राहें अलग करने का प्रयास कर रहे हैं.

सत्ता सुख के लिए केवल साथ

तो वहीं जीतन राम मांझी के बयान पर कि अगर नीतीश कुमार नहीं माने तो वो चमनक जाएंगे पर चिराग ने कहा कि इससे साबित होता है कि एनडीएन में कोई वैचारिक समानता नहीं है. केवल सत्ता का सुख पाने के लिए यहां सभी लोग साथ हैं. सत्ता के लालच में बिहार के सत्ताधारी दल के नेता फंसे हैं. उन्हें बिहार की चिंता नहीं है बल्कि वे सिर्फ सत्ता सुख के लिए एकदूसरे के साथ गठबंधन किए हैं.

विधानसभा चुनाव से शुरू हुआ अदावत

बता दें कि बिहार के मुख्मंत्री नीतीश कुमार और लोजपा (R) सुप्रीमों चिराग पासवान में रजनीतिक अदावत विधानसभा चुनाव से ही जारी है. खुद को मोदी का हनुमान बताने वाले चिराग पासवाव ने 2020 विधानसभा चुनाव में जेडीयू उम्मीदवार के खिलाफ सभी सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे थे. जिसका खामियाजा नीतीश कुमार को भुगतना पड़ा और उनकी पार्टी महज 44 सीटों पर सिमट गई. इसके बाद नीतीश कुमार ने इसका बदला लिया. कहा जाता है कि नीतीश कुमार के शह पर ही उनके चाचा पशुपति कुमार पारस ने पार्टी में बगाबत कर दी. जिसके बाद लोजपा दो भागों में बंट गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *