Breaking News

गोवा में हम TMC के साथ नहीं करेंगे गठबंधन, AAP सभी 40 सीटों पर उतारेगी उम्मीदवार- सीएम केजरीवाल

आम आदमी पार्टी (आप) संयोजक अरविंद केजरीवाल ने गोवा में ममता बनर्जी नीत तृणमूल कांग्रेस के साथ चुनाव-पूर्व गठबंधन की संभावना से इंकार किया है. हालांकि, उन्होंने कहा कि खंडित जनादेश की सूरत में वह विधानसभा चुनाव नतीजे के बाद गैर-बीजेपी दलों के साथ गठबंधन पर विचार कर सकते हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आप गोवा विधानसभा की सभी 40 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी और पार्टी की तरफ मुख्यमंत्री पद के चेहरे को लेकर आने वाले दिनों में घोषणा करेगी.

केजरीवाल ने बीजेपी के दिग्गज दिवंगत नेता मनोहर पर्रिकर की भी सराहना की और कहा कि राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी में अगर किसी को ”घुटन” महसूस हो रही है तो वो आम आदमी पार्टी में शामिल हो सकता है. पणजी दौरे के दौरान केजरीवाल ने कहा कि उनकी पार्टी विधानसभा चुनाव में खंडित जनादेश की सूरत में ”बेहद आवश्यक होने पर” चुनाव बाद गैर-बीजेपी दलों से गठबंधन कर सकती है. तृणमूल कांग्रेस के साथ चुनाव-पूर्व गठबंधन की संभावना को खारिज करते हुए केजरीवाल ने कहा, ‘हमें गोवा में तृणमूल कांग्रेस के साथ गठबंधन क्यों करना चाहिए? हम उनके साथ कोई गठबंधन नहीं करने जा रहे.’

गोवा में सत्ता आई तो ‘‘भ्रष्टाचार मुक्त ’’ सरकार देगी आप

केजरीवाल ने कहा कि गोवा में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में यदि आप सत्ता में आयी तो वह राज्य में ‘‘भ्रष्टाचार मुक्त और ईमानदार’’ सरकार देगी. केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा कि आप की दिल्ली सरकार के पिछले कार्य निष्पादन रिकार्ड के आधार पर यह गारंटी दी गई है जहां उसके ही मंत्री को एक दुकानदार से रिश्वत मांगने के आरोप में पद से हटा दिया गया था.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि मंत्री या विधायक रिश्वत मांगते पाए जाते हैं तो उन्हें दंड से बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने दावा किया, ‘‘’हम गोवा में पहली भ्रष्टाचार मुक्त और ईमानदार सरकार देंगे.’’ केजरीवाल ने कहा कि अगर आप गोवा में सत्ता में आती है तो उसकी सरकार घर-घर जाकर सेवाएं मुहैया कराकर छोटे स्तर के भ्रष्टाचार को भी रोकेगी. उन्होंने कहा, ‘‘हमने पहले ही दिल्ली में सेवाओं को घर पर मुहैया कराना शुरू कर दिया है. सभी सरकारी सेवाएं आपके दरवाजे पर उपलब्ध होंगी.’’

पिछले गोवा चुनाव में आम आदमी पार्टी का नहीं खुला था खाता

उन्होंने कहा कि दिल्ली में सरकारी अधिकारी दस्तावेज लेने के लिए आवेदक के आवास पर जाते हैं और इसी तरह की व्यवस्था गोवा में भी शुरू की जाएगी. उन्होंने कहा, ‘‘आपके पंचायत के काम से लेकर मुख्यमंत्री से सहायता तक, सब कुछ आपके दरवाजे पर उपलब्ध होगा.’’ आप नेता ने यह भी दावा किया कि यदि उनकी पार्टी गोवा में सत्ता में आती है, तो लोगों को एक महीने के भीतर सरकार के कामकाज के तरीके में भारी बदलाव देखने को मिलेगा. उन्होंने कहा कि सरकार राज्य में औद्योगिक घरानों को व्यवसाय चलाने में भी मदद करेगी. केजरीवाल ने कहा कि आप सरकार तटीय राज्य को छोड़ चुके उद्योगों को सभी आवश्यक सहायता प्रदान करके उन्हें फिर से राज्य में वापस लाने के लिए सुविधा प्रदान करेगी. आप ने 2017 में भी गोवा विधानसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन 40 सदस्यीय सदन में एक भी सीट नहीं जीत सकी थी. टीएमसी ने घोषणा की है कि वह गोवा में आगामी चुनावों में सभी 40 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *