Breaking News

खुशियों की ईद आज, देश के अलग-अलग हिस्सों में किस वक्त अदा की जाएगी ईद की नमाज,

माह-ए-रमजान के 30 रोजे सोमवार को पूरे हो गए। इफ्तार और मगरिब की नमाज के बाद ईद का चांद दिखा तो मुस्लिमों में खुशियां छा गईं। चांदरात पर पटाखे फोड़, आतिशबाजी कर खुशी का इजहार किया गया। कोरोना महामारी की वजह से दो साल तक ईदगाह में सूनापन था। इस साल ईदगाह में नमाज की खास तैयारी हुई है। कोरोना की वजह से पिछले दो साल ईद पर लोग कम ही गले मिले थे। अबकी मुबारकबाद भी सीने से लगाकर दी जाएगी।

सुबह नौ बजे रामबाग स्थित ईदगाह में हजारों लोग एक साथ ईदुल फितर की नमाज अदा कर दुआएं मांगेंगे। सोमवार को कमेटी पदाधिकारियों के साथ उलेमा, पेश इमाम आदि ईदगाह में इंतजाम देखने पहुंचे। शहर की सभी बड़ी छोटी मस्जिदों में भी ईद की नमाज की खास तैयारी पूरी हो गई। चौक जामा मस्जिद में भीड़ अधिक होने की वजह से दो बार नमाज अदा की जाएगी। शिया जामा मस्जिद चक में भी टेंट आदि लगवाए गए हैं। पिछले दो सालों तक बंदिशों की वजह से ईद की नमाज भी मस्जिदों में सीमित दायरों में ही हुई थी। अबकी तकरीरों और खुतबों का खास इंतजाम है। कई मस्जिदों में ईद की नमाज के बाद खजूर और सेवईं का इंतजाम भी किया गया है।

काजी-ए-शहर मुफ्ती शफीक अहमद शरीफी, सुन्नी मरकजी रुयत-ए-हिलाल कमेटी कदीम के अध्यक्ष मुफ्ती मोहम्मद मुजाहिद हुसैन रजवी, उपाध्यक्ष मौलाना सैयद रईस अख्तर हबीबी ने ईद की नमाज अदा कर भाईचारे से पर्व मनाने की गुजारिश की है।

शिया जामा मस्जिद के इमाम-ए-जुमा मौलाना हसन रजा ने भी ईद पर खुशियां बांटने का ऐलान किया। ईदगाह, मस्जिदों, मदरसों, दरगाहों पर ईद की नमाज के साथ शहर में खुशियां मनाने का सिलसिला शुरू हो जाएगा।

ईद अल्लाह की तरफ से रमजान में इबादत करने वालों के लिए बहुत बड़ा तोहफा है। आपस मे खुशियां बांटें, इबादत करें, गरीबों की मदद करें, मुल्क की सलामती के लिए दुआ करें। आपस के सारे एखतिलाफ मिटाकर गले मिलें।

– मौलाना नादिर हुसैन, खतीब शीशे वाली मस्जिद हटिया

देश की कुछ प्रमुख मस्जिदों में ईद की नमाज का समय-

ईदगाह – 7 बजे
जामा मस्जिद – 7.30 बजे
अकबरी मस्जिद – 8 बजे
मस्जिद जाल फुलट्टी बाजार – 9.15 बजे
नूरी मस्जिद सिकंदरा बाजार – 8.30 बजे
मोहम्मदी मस्जिद, अहमद नगर सिकंदरा मंडी – 8 बजे
मस्जिद नहर वाली सिकंदरा बोदला रोड – 6.55 बजे
शम्सी कालोनी पार्क सिकंदरा – 7 बजे
आगरा ईदगाह सुबह 7:00 बजे
शाही जामा मस्जिद सुबह- 7:30 बजे
अकबरी मस्जिद सुबह- 8:00 बजे
मस्जिद कपूरथला अलीगंज- 6 बजे
छोटा इमामबाड़ा- 8 बजे
आसिफी मस्जिद- 11 बजे
ऐशबाग ईदगाह- 10 बजे
मस्जिद टीले वाली- 9 बजे
सदर इमामबाड़ा लाट सरैया- सुबह 10:15 बजे
मस्जिद दरगाह फातमान- सुबह 10:00 बजे
दो मीनार मस्जिद – 8.30 बजे
मस्जिद ताजमहल – 8.45 बजे
मस्जिद मोअतमद खां माल का बाजार – 9 बजे
शाही मस्जिद कला साबुन कटरा – 9 बजे
शाही मस्जिद लोहामंडी – 9.15 बजे
मस्जिद सुल्तान परवेज कश्मीरी बाजार – 9.15 बजे
मस्जिद नूरी, नूरी दरवाजा – 9.15 बजे
ऊंची मस्जिद छिली ईट रोड – 9.30 बजे
बाबरी मस्जिद जमनापार – 9.45 बजे
मस्जिद रफीउज्जमां राजामंडी-  7.30 बजे

कई साल बाद सबकी ईद साथ

पिछले कई सालों से चांद की तस्दीक को लेकर असमंजस होता रहा है। इस बार 30 रोजे पूरे होने से ऐसा नहीं हुआ। सभी मस्लक और शिया समुदाय के लोग एक साथ ईद मनाएंगे। इससे ईद की रौनक भी बढ़ गई है।

सोशल मीडिया पर मुबारकबाद का संदेश

चांदरात पर ही सोशल मीडिया पर ईद मुबारक के संदेशों की भरमार हो गई। हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सभी ने ईद की मुबारकबाद देनी शुरू कर दी। ईद की खुशियों से जुड़े मैसेज, फोटो, वीडियो शेयर किए जाने लगे। मोबाइल के स्टेट्स ईद की मुबारकबाद से भर गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *