Breaking News

खरगोन की धड़कन ने शाहरुख-अजय देवगन को भेजे 5-5 रुपये के मनीऑर्डर, जानें वजह

फिल्मी सितारों (movie stars) को उनके फैन्स (fans) तमाम तरह की चीजें भेजते रहते हैं। लेकिन मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के खरगोन (Khargone) से एक युवती धड़कन जैन ने शाहरुख खान (Shahrukh Khan) और अजय देवगन (Ajay Devgan) को पांच-पांच रुपए का मनी ऑर्डर (money order of five rupees) भेजा है। इसके साथ ही धड़कन ने दोनों सितारों से अपील की है कि वह पान मसाले का विज्ञापन न करें। धड़कन जैन ने इसको लेकर दोनों सितारों को ट्विटर पर टैग भी किया है। धड़कन जैन का कहना है कि पान मसाले से युवा पीढ़ी पर गलत असर पड़ रहा है। इसलिए उन्होंने पान मसाले का विज्ञापन करने वाले बड़े फिल्म स्टारों को पांच पांच रुपए का मनी ऑर्डर भेजा है। ताकि वाह पान मसाले के विज्ञापन का ऐड करना बंद कर दे।

शाहरुख-अजय को बनाया भाई
धड़कन ने बताया कि 24 मई को ब्रदर्स डे बनाया जाता है। मैं अपने माता-पिता की इकलौती संतान हूं। मैंने शाहरुख खान और अजय देवगन को अपना भाई माना है। इसीलिए मैंने उन्हें पांच पांच रुपए का मनीआर्डर भेजा है, क्योंकि वह जो पान मसाले का ऐड कर रहे हैं वह गलत है। उन्होंने कहा कि इन फिल्मी सितारों को काफी यंगस्टर फॉलो करते हैं। इसलिए पान मसाले के विज्ञापन से गलत संदेश उन तक पहुंच रहा है। धड़कन जैन ने कहा कि जिस तरह अक्षय कुमार ने पान मसाले का विज्ञापन का ऐड करना छोड़ दिया है, वैसे ही शाहरुख खान और अजय देवगन भी पान मसाले का ऐड करना बंद कर दें।

2021 से कर रही हैं ट्वीट
धड़कन जैन ने बताया कि उन्होंने पहला ट्वीट 28 मार्च 2021 को अजय देवगन शाहरुख खान और अक्षय कुमार को किया था। इस ट्वीट में मैंने उन्हें सलाह दी थी कि वह यह पान मसाले का ऐड करना छोड़ दें। क्योंकि यह गलत संदेश दे रहा है। मैं एक साल से लगातार ट्वीट कर रही हूं। मैंने देखा कि अक्षय कुमार ने पान मसाले का विज्ञापन करना बंद कर दिया है। धड़कन जैन कहती है कि जब अक्षय कुमार यह ऐड करना बंद कर सकते हैं तो फिर यह दोनों तो देश के बड़े सितारे हैं।

मैं चाहती हूं कि हर्ट होकर विज्ञापन बंद कर दें
धड़कन ने बताया कि उन्होंने दोनों सितारों को पांच रुपए का मनी ऑर्डर इसलिए भेजा है क्योंकि पान मसाले का एक पैकेट पांच रुपए का आता है। उन्होंने बताया कि मैं चाहती हूं कि वह पांच रुपए के पान मसाले का पैकेट मुझे भी गिफ्ट के तौर पर भेजें। मुझे उसे खाना नहीं है बल्कि इसके पीछे मेरा उद्देश्य उन्हें हर्ट करना है, ताकि वे इस तरह के विज्ञापन करना बंद कर दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *