Breaking News

कोरोना संक्रमण से दुनियाभर में दहशत, WTO से आपात बैठक बुलाने की भारत ने की मांग

दुनियाभर में कोविड-19 संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट के साथ दूसरे वेरिएंट के भी मामले तेजी से बढ़ने से दहशत का माहौल है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया में कोरोना से संक्रमितों की संख्या 29 करोड़ से अधिक हो गई है. इस बीच भारत ने दुनिया में कोरोना वायरस से संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर विश्व व्यापार संगठन (World Trade Organization) से आपात बैठक बुलाने की मांग की है. भारत ने WTO के प्रस्तावित पैकेज पर विचार विमर्श के लिए इसी महीने जिनेवा में डब्ल्यूटीओ की आम परिषद (WTO General Council) की आपात बैठक बुलाने की मांग की है. इस पैकेज में पेटेंट से छूट (Patent Waiver) का प्रस्ताव भी शामिल है.

 

भारत ने की WTO से आपात बैठक की मांग

विश्व व्यापार संगठन की आम परिषद (WTO General Council) निर्णय लेने वाला शीर्ष निकाय है. संगठन के कामकाज को सही तरीके से चलाने को लेकर इसकी बैठक नियमित तौर पर होती है. भारत ने कोरोना महामारी से निपटने में मदद के लिए बौद्धिक संपदा अधिकार से संबंधित व्यापार पहलुओं पर कोई खास प्रगति न होने को लेकर नाराजगी जाहिर की है और प्रस्ताव को WTO के प्रस्तावित पैकेज में शामिल करने की अपील की है. विश्व व्यापार संगठन (WTO) 164 सदस्यीय बहुपक्षीय निकाय है, जो वैश्विक निर्यात और आयात के लिए नियम तैयार करता है और व्यापार से संबंधित मुद्दों पर दो या दो से अधिक देशों के बीच विवादों का निर्णय करता है. अक्टूबर 2020 में भारत और दक्षिण अफ्रीका ने कोविड-19 की रोकथाम या उपचार के संबंध में TRIPs समझौते के कुछ प्रावधानों के कार्यान्वयन पर सभी WTO सदस्यों के लिए छूट का सुझाव देते हुए पहला प्रस्ताव प्रस्तुत किया. मई 2021 में एक संशोधित प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया था.

दुनियाभर में कोरोना से दहशत

TRIPs जनवरी 1995 में प्रभावी हुए. यह बौद्धिक संपदा (IP) अधिकारों जैसे कॉपीराइट, औद्योगिक डिजाइन, पेटेंट या व्यापार की सुरक्षा पर एक बहुपक्षीय समझौता है. WTO 10 जनवरी से अपनी बैठकें शुरू करेगा और भारत ने तुरंत बैठक बुलाने का सुझाव दिया है. अमेरिका में ओमिक्रोन वेरिएंट (Omicron Varinat) जल्द ही पीक पर आ सकता है. हालांकि शीर्ष वैज्ञानिक एंटनी फॉसी का मानना है कि ओमिक्रोन को लेकर दक्षिण अफ्रीका के अनुभव से उम्मीदें हैं. जहां ओमिक्रोन का स्ट्रेन अचानक चरम पर पहुंचकर जल्द ही कम हो गया. कुछ रोग विशेषज्ञों के मुताबिक 50 से अधिक उम्र वालों में ओमिक्रोन संक्रमण तेजी से फैल रहा है. फ्रांस, ब्रिटेन समेत कई और देशों में भी तेजी से संक्रमण बढ़ने की वजह से दहशत है.

भारत में कोरोना संक्रमण के 33 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए हैं जबकि 123 लोगों की मौत हो चुकी. वहीं देश में ओमिक्रोन मरीजों का आंकड़ा 1700 तक पहुंच चुका है. कोरोना संक्रमण के चलते चलते वैश्विक आवाजाही भी बाधित हुई है. पिछले 24 घंटे में ही दुनियाभर में 4,000 से ज्यादा उड़ानें रद्द कर दी गई हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 29.07 करोड़ हो गई है जबकि मृतकों की संख्या 54.62 लाख तक पहुंच गई है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *