Breaking News

कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन टीएलपी को रोकने के लिए इस्लामाबाद में अर्धसैनिक बल तैनात, पहले दौर की वार्ता बेनतीजा

कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) को इस्लामाबाद में कदम रखने से रोकने के लिए शनिवार को अर्धसैनिक बलों के करीब 500 जवानों और 1000 फ्रंटियर कर्मियों को तैनात कर दिया गया। लाहौर में पहले दौर की वार्ता का कोई परिणाम नहीं निकलने के बाद सरकार ने यह फैसला लिया। शुक्रवार को कट्टरपंथी संगठन के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच हुई झड़प में तीन पुलिसकर्मियों समेत पांच की मौत हो गई।

धरने पर बैठे  कार्यकर्ता

लाहौर डीआइजी (आपरेशन) के प्रवक्ता मजहर हुसैन ने दो पुलिस कर्मियों की पहचान बताई है लेकिन तीसरे की पहचान नहीं हो पाई है। शुक्रवार को टीएलपी ने फ्रांस के खिलाफ प्रदर्शन करने पर पिछले साल गिरफ्तार किए गए अपने प्रमुख हाफिज साद हुसैन रिजवी की रिहाई की मांग को लेकर लाहौर से इस्लामाबाद तक मार्च करने की घोषणा की थी। फ्रांस की एक पत्रिका में पैगंबर मुहम्मद का कार्टून छपने के बाद साद ने प्रदर्शन किया था। साद को रिहा करने का दबाव डालने के लिए सैकड़ों टीएलपी कार्यकर्ता लाहौर में धरने पर बैठे हैं।

1400 पुलिसकर्मी तैनात

पाकिस्तानी अखबार डान ने कहा है कि राष्ट्रीय राजधानी प्रशासन ने पाकिस्तान के गृह मंत्रालय से रेंजर एवं फ्रंटियर कांस्टेबलरी के कर्मियों की मांग की। रेड जोन के भीतर और उसके आसपास सुरक्षा कर्मियों को तैनात कर दिया गया है। शहर के हर प्रवेश बिंदु पर 200 पुलिसकर्मियों का दस्ता तैनात किया गया है। इसके अलावा फैजाबाद एवं रेड जोन में विभिन्न स्थानों पर 1400 पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं।

बलूचिस्तान में आइएस के नौ आतंकी ढेर

समाचार एजेंसी आइएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में एक कार्रवाई के दौरान इस्लामिक स्टेट (आइएस) के नौ आतंकी मारे गए। आतंकवाद निरोधक विभाग के पुलिस बल ने शुक्रवार को खुफिया जानकारी के आधार पर मस्तंग जिले के रोशी इलाके में छापेमारी की। जैसे ही इलाके की घेराबंदी की गई आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में नौ आतंकी ढेर हो गए।

हथियारों का जखीरा बरामद

आतंकियों के ठिकाने से हथियारों, विस्फोटकों और असाल्ट राइफलों का जखीरा बरामद हुआ। समाचार एजेंसी एपी के अनुसार, पूर्वोत्तर में सुरक्षा बलों की छापेमारी के दौरान हुई मुठभेड़ में दो सुरक्षाकर्मी और एक आतंकी मारा गया। सेना के अनुसार, शुक्रवार को उत्तर वजीरिस्तान में अफगानिस्तान सीमा से सटे प्रमुख शहर मिरान शाह में छापेमारी की गई थी। यहां से भी हथियार और गोलाबारूद बरामद हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *