Breaking News

कंप्यूटर ऑपरेटर ने जमा की करोड़ों की संपत्ति, फर्जी आईडी पासवर्ड बनाकर करता था काली कमाई

कुछ लोग भ्रष्टाचार करने में इतने माहिर हो जाते हैं, कि घूस लेने का कोई न कोई रास्ता निकाल लेते हैं. ऐसे ही राजस्थान (Rajasthan) के एक घूसखोर की खबर सामने आई है, जिसकी सैलरी केवल 5000 रुपये है और उसने करोड़ो रुपये का घोटाला किया है. जानकारी के अनुसार ये घटना राजस्थान के भीलभाड़ा (Bhilwara) के कोटड़ी की है, जहां शिक्षा विभाग (Education Department) के एक गोपाल सुवलाका (Gopal Suwalka) नाम के कर्मचारी ने करोड़ो का घोटाला (Scam) किया.

घोटाले का आरोपी संविदा पर कंप्यूटर ऑपरेटर (Computer Operator) के पद पर तैनात है. वो घूस लेकर 2017 से अब तक करोड़ों रुपये कमा चुका है. जब इसकी जानकारी पुलिस को हुई तो पूरे मामले का खुलासा हुआ. गोपाल हर महीने अपनी पत्नी और कुछ अन्य बैंक अकाउंट में हर महीने लाखों रुपये जमा करता रहा. हैरानी की बात ये है कि उसके भ्रष्टाचार की किसी को कानो कान खबर नहीं हुई.

टीचर्स की फर्जी आईडी बनाता था आरोपी

फर्जी टीचर बनाकर हर महीने शिक्षा विभाग को करोड़ों का चूना लगाता रहा. वो टीचर की फर्जी आईडी और पासवर्ड बनाता था. जब इसकी खबर प्रशासन को लगी तो मामले की जांच की गई. जिसके बाद आरोपी से 60 लाख रुपये का गबन किया गया. लेकिन जिले के जिला शिक्षा अधिकारी योगेश पारिक ने जांच को आगे बढ़ाया, जिसके बाद चौंकाने वाले खुलासे सामने आए. अब तक आरोपी के कई अकाउंट का पता लगा जिसमें से करीब 2 करोड़ रुपये जमा होने की जानकारी मिली है.

कई अकाउंट में डालता था काली कमाई

आरोपी ने बैंक अकाउंट तो भर ही रखे थे, लेकिन इसके अलावा भी उसकी काफी संपत्ति का पता लगा है. आरोपी के पास दो मकान, दो एलएनटी और एक जेसीबी मिली. उसका कारोबार पंजाब तक फैला हुआ है. जिला शिक्षा अधिकारी ने ब्लॉक शिक्षा अधिकारी से पूछताछ की बात कही है. उनका कहना है कि ब्लॉक शिक्षा अधिकारी की नाक के नीचे इतना बड़ा घोटाला कैसे हुआ. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच शुरू कर दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *