Breaking News

ऑस्ट्रेलियाई कोच का दावा, इस भारतीय खिलाड़ी से छुटकारा पाकर हमें मिली थोड़ी राहत

ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मुकाबला सिडनी में खेला जा रहा है। इस मैच के चार दिन का खेल समाप्त हो गया है। मुकाबला इस समय नाजुक स्थिति में है। हालांकि, मेजबान टीम के पास मुकाबले में बढ़त है, लेकिन भारत के पास भी मुकाबला जीतने का मौका है। इसके लिए भारतीय खिलाड़ियों को मेहनत करनी होगी, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई टीम के मुख्य कोच ने बता दिया है कि उनको किस खिलाड़ी से ज्यादा दिक्कत थी।

दरअसल, ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने जीत के लिए 407 रन का लक्ष्य रखा था। इसके जवाब में भारत को अच्छी शुरुआत मिली, लेकिन पहले शुभमन गिल और फिर रोहित शर्मा आउट हो गए। रोहित ने अर्धशतक जरूर जड़ा, लेकिन वे टीम को मुसीबत से नहीं निकाल पाए। वहीं, ऑस्ट्रेलियाई टीम के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर ने कहा है कि रोहित शर्मा का विकेट मिलना उनकी टीम के लिए थोड़ी राहत की बात है, क्योंकि कोच अच्छी तरह से जानते हैं कि रोहित शर्मा किस शैली के खिलाड़ी हैं। वे अकेले दम पर इस मुकाबले को भारत को जिताने का दमखम रखते हैं।

मैच के चौथे दिन के खेल के बाद वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में जस्टिन लैंगर ने कहा, “रोहित शर्मा को आउट करना हमारे लिए थोड़ी राहत की बात है। वह एक विश्वस्तरीय खिलाड़ी हैं और हम जानते हैं कि वह सर्वकालिक महान वनडे खिलाड़ियों में से एक हैं। इसलिए, अगर वह आउट नहीं होते तो वह जल्दी से रन बना सकते थे। इस विकेट पर रोहित शर्मा का ये स्कोर बहुत कम है, इसलिए हम वास्तव में कड़ी मेहनत करते हैं और दबाव बनाए रखते हैं। हमें बस वही करने की जरूरत है जो हम कर रहे हैं। थोड़ा सा बाउंस विकेट पर है, जो हमारे लिए एक भूमिका निभा रहा है।”रोहित शर्मा की बात करें तो उन्होंने इसी मैच के साथ आइपीएल के बाद वापसी की है, क्योंकि वे चोट से गुजर रहे थे। रोहित ने इसी मैच की पहली पारी में भी अच्छी बल्लेबाजी की थी और वे लय में दिखे थे। ऐसा ही कुछ दूसरी पारी में भी देखने को मिला, लेकिन वे 52 रन बनाकर आउट हो गए। भारतीय टीम के पास अभी 8 विकेट जरूर हैं, लेकिन टीम के लिए सबसे खराब बात ये है कि रिषभ पंत और रवींद्र जडेजा बल्लेबाजी के लिए सक्षम नहीं दिख रहे हैं। यहां तक कि चोट के कारण जडेजा मुकाबले से बाहर हो गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *