Breaking News

एक्टिव मोड में मोदी के नए मंत्री: आते ही छाए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, विभाग के इंजीनियर को लगाया गले, देखें वीडियो

पीएम मोदी (PM Modi) की नई टीम के मंत्री एक्टिव मोड में नजर आ रहे हैं, शुक्रवार को नए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव (Ashwini Vaishnav) सिग्नल डिपार्टमेंट के एक इंजीनियर को गले लगाते नजर आए. दरअसल बातचीत के दौरान पता चला कि वहां काम कर रहा एक इंजीनियर उनके पूर्व कॉलेज एमबीएम इंजीनियरिंग कॉलेज जोधपुर से पढ़ाई कर चुका है. वीडियो में एक कर्मचारी ने मंत्री को बताया कि सिग्नल विभाग का एक इंजीनियर उनके (अश्विनी वैष्णव) ही कॉलेज का है, इस पर मंत्री जी ने कहा कि आओ गले लगते हैं.

कॉलेज की बात याद करते हुए मंत्री ने बताया कि कैसे कॉलेज में जूनियर अपने सीनियर को बॉस बुलाते थे. उन्होंने कहा कि अब से तुम मुझे बॉस बुलाना. बुधवार को नए मंत्रिमंडल विस्तार में अश्विनी वैष्णव को रेल मंत्री, संचार मंत्री और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया है. वैष्णव ने मिनिस्टर ऑफ स्टेट से सीधे कैबिनेट में एंट्री की और उन्हें महत्वपूर्ण मंत्रालयों की जिम्मेदारी दी गई है. वो आईआईटी कानपुर और व्हार्टन बिजनेस स्कूल से डिग्री वाले एक पूर्व आईएएस अधिकारी हैं. वो साल 2019 से ओडिशा से बीजेपी के राज्यसभा सांसद हैं. उन्होंने साल 1991 में इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन एमबीएम इंजीनियर कॉलेज से इंजीनियरिंग में गोल्ड मेडल के साथ ग्रेजुएशन किया है.

1994 बैच के पूर्व IAS ऑफिसर हैं रेल मंत्री वैष्णव

ओडिशा के बालासोर और कटक जिलों में कलेक्टर के रूप में काम कर चुके हैं. कलेक्टर रहने के दौरान राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने उनके जिले में उनके काम के लिए उनकी सराहना की थी. भारतीय प्रशासनिक सेवा के 1994 बैच के पूर्व अधिकारी वैष्णव ने 15 साल से ज्यादा समय तक महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां संभालीं. उन्हें खासतौर से बुनियादी ढांचे में सार्वजनिक-निजी भागीदारी (पीपीपी) की रूपरेखा बनाने में उनके योगदान के लिए जाना जाता है, जो उन्हें रेल क्षेत्र में भी मदद करेगा.

आईआईटी कानपुर से किया है एमटेक

उन्होंने जनरल इलेक्ट्रिक एंड सिमंस जैसी बड़ी वैश्विक कंपनियों में भी नेतृत्व भूमिकाएं निभायी हैं. वैष्णव ने पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल से एमबीए और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) कानपुर से एम.टेक किया है. उनके पास संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी के दो अन्य महत्वपूर्ण विभाग भी रहेंगे. वैष्णव ने प्रभार संभालते हुए कहा रेल क्षेत्र में पिछले 67 वर्षों में शानदार काम किया गया है. मैं यहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दृष्टिकोण के मुताबिक इसे आगे ले जाने के लिए आया हूं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *