Breaking News

उ. कोरिया में Corona के ‘बुखार’ से छह की मौत, एकांतवास में भेजे गए 1.87 लाख लोग

कोरोना (Corona) के कहर से अब तक अछूता देश उत्तर कोरिया (North Korea) भी अब इसकी चपेट में आ गया है। शुक्रवार तड़के न्यूज एजेंसी ने राज्य मीडिया के हवाले से बताया कि उत्तर कोरिया में कोविड-19 (COVID-19) के कारण ‘बुखार’ से छह लोगों की मौत (Six people died of ‘fever’) हो गई है। साथ ही 1,87,000 लोगों में बुखार के लक्षण पाए जाने के बाद एकांतवास (solitude) में रखकर उनका इलाज किया जा रहा है।

इससे पहले गुरुवार को उत्तर कोरिया में कोरोना के ओमिक्रोन वैरिएंट का पहला मामला सामने आने की खबर सामने आई थी। इसके बाद उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने पूरे देश में लॉकडाउन घोषित कर दिया था। अधिकारियों ने बताया जिस व्यक्ति में कोरोना की पुष्टि हुई है, वह कई दिनों से बुखार से पीड़ित था। जांच के बाद सामने आया कि, व्यक्ति ओमिक्रोंन वैरिएंट की चपेट में है।

अमेरिका में कोरोना से मौतों की संख्या दस लाख के पार, बाइडन ने कहा- दुखद
अब तक कोरोना महामारी से अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देशभर में अब तक 10 लाख से ज्यादा लोगों को वायरस लील चुका है। इसे लेकर गुरुवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने बयान जारी कर कहा कि देश में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या 10 लाख पार हो गई है, जो कि हमारे लिए एक बेहद दुखद आंकड़ा है। यह उन लोगों के दर्द को स्वीकार करने का पल है, जिन्होंने अपनों को खोया है।

राष्ट्रपति ने कहा कि हमें अब भी इस बीमारी से सतर्क रहने की जरूरत है। अमेरिका जांच, टीकाकरण और कोरोना पर काबू पाने के लिए फंड बढ़ाने के लिए दृढ़ संकल्पित है। इसके लिए उन्होंने कांग्रेस से आर्थिक सहायता बढ़ाने की मांग भी की है।

अमेरिका और अफ्रीका के अलावा हर जगह घटी महामारी : डब्ल्यूएचओ
विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना महामारी पर अपने ताजा आकलन में कहा है कि अमेरिका और अफ्रीका को छोड़कर दुनिया के अन्य हिस्सों में संक्रमण के नए मामलों में कमी आ रही है। मंगलवार देर रात जारी साप्ताहिक रिपोर्ट में स्वास्थ्य एजेंसी ने बताया कि हफ्तेभर में पूरी दुनिया से करीब 35 लाख नए मामले और 25 हजार से ज्यादा मौतें दर्ज हुई हैं, जो तुलनात्मक रूप से क्रमश 12 फीसदी और 25 फीसदी कम हैं।

भारत से विदेश जाने वालों के लिए खुराक के नियमों में छूट
भारत सरकार ने विदेश यात्रा पर जाने वाले लोगों के लिए एहतियाती खुराक के नौ महीने प्रतीक्षा अवधि नियमों में छूट दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्वीट किया कि विदेश जाने वाले भारतीय नागरिक और छात्र अब अपने गंतव्य देश के दिशानिर्देशों के अनुसार एहतियाती खुराक ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *