Breaking News

उत्तर प्रदेश में 1.5 लाख शिक्षा मित्रों और पांच लाख शिक्षकों को सरकार ने दी ये बड़ी राहत

यूपी में कोरोना वायरस का संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। भयावाह हालात को देखते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सभी शिक्षण संस्थानों को 26 अप्रैल तक के लिए बंद करने का आदेश दे दिया है। अदालत ने कहा है कि इस दौरान शिक्षकों और स्टाफ घर पर रहेंगे क्योंकि इस दौरान उनकी छुट्‌टी रहेगी। राज्य के बेसिक शिक्षा परिषद ने शिक्षकों, अनुदेशकों और शिक्षा मित्रों को भी स्कूल से छुट्टी दे दी है। उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ. सतीश द्विवेदी ने ट्वीट किया कि शिक्षक, अनुदेशक या शिक्षा मित्र घर से ही काम कर सकेंगे। इस निर्णय से उत्तर प्रदेश में कार्यरत एक लाख 52 हजार से ज्यादा शिक्षा मित्रों और पांच लाख से ज्यादा शिक्षकों को बड़ी राहत दे दी है।

कोरोना संक्रमण को देखते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इसकी रोकथाम के लिए प्रदेश के पांच बड़े शहरों लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज, कानपुर और गोरखपुर में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन करने का आदेश दिया था। हालांकि योगी सरकार ने इसे मानने से साफ़ इनकार कर दिया है। उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस के 28,287 नए केस दर्ज किये गए हैं। वहीं 167 लोगों की जान कोरोना से जा चुकी है।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 20 लाख 85 हजार 523 हो चुकी है। वहीं कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 10000 पर पहुंचने वाला है। अब तक उत्तर प्रदेश में 9997 लोगों की जान जा चुकी है। बीते 24 घण्टों में लखनऊ में 5897, वाराणसी में 2668, प्रयागराज में 1576, कानपुर में 1365 और गोरखपुर में 810 नए केस दर्ज हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *