Breaking News

उत्तर प्रदेश में आना है तो हो जायें सावधान, सरकार बनाने जा रही है सख्त नियम

कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के पहले ही योगी आदित्यनाथ सरकार तेजी से सतर्कता बरत रही है। राज्य सरकार कोरोना प्रभावित राज्यों से उत्तर प्रदेश में आने वालों के लिए निगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट या फिर दोनों डोज वैक्सीन लगवाए जाने का प्रमाण पत्र साथ लाना अनिवार्य करने जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-9 की बैठक हुई जिसमें अधिकारियों को निर्देश दिया। बैठक में कहा गया कि ट्रेन, हवाई जहाज व बस आदि से उत्तर प्रदेश आने वाले कोविड पॉजिटिव पाए जा रहे हैं। ऐसे लोगों की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग और जांच जरूर की जाए। विशेषज्ञों के भविष्य के आकलन पर विशेष ध्यान दिया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोविड टीकाकरण का काम सुचारु रूप से चल रहा है। उत्तर प्रदेश चार करोड़ कोविड वैक्सीन लगाने वाला देश का पहला राज्य बनने जा रहा है। योगी ने अधिकारियों से कहा कि कोविड वैक्सीनेशन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया को प्रोत्साहित किया जाए। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का कार्य पूर्णता की ओर है, तो गंगा एक्सप्रेस-वे के लिए 89 फीसदी से अधिक भूमि क्रय कर ली गई है।

छह जिले और हुए कोरोना मुक्त
उन्होंने कहा कि प्रदेश में हर दिन के साथ कोविड महामारी पर नियंत्रण की स्थिति और बेहतर होती जा रही है। अलीगढ़, चित्रकूट, हाथरस, कासगंज, महोबा, श्रावस्ती जिले और कोरोना मुक्त हो चुके हैं। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री को बताया गया कि मेडिकल कॉलेजों में पीडियाट्रिक आईसीयू निर्माण का काम चल रहा है। केंद्र सरकार ब्लैक फंगस के मरीजों के लिए दवा उपलब्ध करा रही है। प्रदेश में 541 स्वीकृत ऑक्सीजन प्लांटों में 166 स्थापना के बाद चालू हो गए हैं। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को शीघ्र पूरा किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *