Breaking News

उत्तराखंड में बाहर से आने वाले यात्रियों और श्रद्धालुओं की कोरोना जांच अनिवार्य नहीं, सरकारी फरमान जारी

उत्तराखंड में बाहरी राज्यों से आने वाले यात्रियों और श्रद्धालुओं के लिए कोविड जांच और वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र की अनिवार्यता नहीं है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के आदेश पर मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधु ने इस संबंध में अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। प्रदेश में तीन मई से चारधाम यात्रा शुरू हो रही है। दो साल बाद यात्रा में भारी संख्या में तीर्थ यात्रियों के आने की संभावना है। राज्य में बाहर से आने वाले यात्रियों और श्रद्धालुओं के लिए कोविड जांच को लेकर भ्रम की स्थिति बनी हुई थी। इसे दूर करने के लिए मुख्यमंत्री के आदेश पर मुख्य सचिव ने शुक्रवार को संबंधित अधिकारियों की बैठक ली।

मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि चारधाम यात्रा के सफल संचालन के लिए अग्रिम आदेशों तक बाहरी राज्यों से आने वाले यात्रियों व श्रद्धालुओं को राज्य की सीमा पर होने वाली असुविधा व भीड़ से बचाव करने के लिए कोविड जांच और वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र की अनिवार्यता नहीं है। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा पर आने वाले सभी यात्री व श्रद्धालुओं के लिए पर्यटन विभाग के पोर्टल पर पंजीकरण कराना अनिवार्य है। बैठक में सचिव स्वास्थ्य राधिका झा, सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर, सचिव धर्मस्व हरिचंद्र सेमवाल, सचिव परिवहन अरविंद सिंह ह्यांकी, पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार समेत संबंधित जिलों के डीएम व बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *