Breaking News

आप पर भी मंडरा रहा है डायबिटीज का खतरा, तो इन आयुर्वेदिक उपायों से करें खुद को फिट

स्वामी रामदेव के हिसाब से पैक्रियाज का बीटा सेल्स कम होना, रिसैप्टर कमजोर हो जाने कारण, स्ट्रेस के बढ़ने की वजह से ब्लड शुगर की दिक्कत बढ़ जाती हैं। शुगर लेवल बढ़ जाने के कारण शरीर में हार्ट , लंग्स, पैंक्रियाज, किडनी और आंखों पर बुरा प्रभाव पड़ता है। केवल इतना ही नहीं समय के रहते अगर इसको नियंत्रित ना किया गया तो आपका पूरा शरीर खोखला हो जाएगा। इसीलिए डायबिटीज को नियंत्रण में रखना बहुत ही जरूरी है। स्वामी रामदेव ने डायबिटीज को दूर करने के लिए प्राणायाम करना जरूरी बताया है। यदि ब्लड शुगर काफी ज्यादा है, तो आयुर्वेदिक उपायों के द्वारा मात्र 7 दिन में इसको नियत्रिंत कर सकते हैं।

डायबिटीज के मरीजों के लिए ये है आयुर्वेदिक उपाय

– रोज सुहर खाली पेट मधुनाशिनी और खाने के बाद मधु ग्रिड का सेवन करें।
– सुबह-सुबह करेला, सदाबाहर, खीरा, गिलोय, टमाटर का जूस बनाकर पीएं।
– हमेशा चंद्रपभा वटी, अश्वशीला का सेवन करें। इसी के साथ गोलाक्षि गुग्गुल का सेवन करें।दवा लेने के बाद इसका सेवन करें।
– आम खाना अगर आपको पसंद हैं, तो ब्लड शुगर के मरीज दिन भर में एक आम खा सकते हैं। लेकिन उस दिन रोटी चावल ना खाएं।
– आम की गुठली का सेवन भी ब्लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है। क्योंकि इसमें विटामिन डी, विटामिन बी12 के साथ साथ प्रोटीन भी खूब पाया जाता है। इसीलिए आम की गुठली को निकाल कर सुखा लें। फिर गाय का घी या किसी तेल से सेंककर हल्का सेंधा नमक या काला नमक के साथ इसका सेवन करें। लेकिन इसको 2-3 ग्राम से ज्यादा ना खाएं।
– जामुन का सेवन भी ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में काफी फायदेमंद है। फिर इसकी गुठलिया सूखा लें और पाउडर बना लें और इसका सेवन करें।
– डायबिटीज के मरीजों के लिए अमरूद, जामुन, नीम, करौंदा अच्छा होता है।
– ब्राउन राइस का सेवन करें, लेकिन नियंत्रित होकर।
– अंकुरित मेथी और मूंग का सेवन करें। का
– हमेशा मल्टीग्रेन आटा का सेवन करें। इसमें बाजरा, जौ, गेंहू, चना आदि से मिला हुआ हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *