Breaking News

आंध्र प्रदेश में कोरोना के कहर के बीच मचा हाहाकार, कैमिकल प्लांट में जहरीली गैस लीक होने से आठ की मौत, 800 से ज्यादा अस्पताल में भर्ती

कोरोना वायरस महामारी के बीच आंध्र प्रदेश से दुखद घटना सामने आई है। राज्य के विशाखापट्टनम में संचालित एक मल्टीनेशनल कंपनी के केमिकल प्लांट में जहरीली गैस लीक होने से एक बच्चे सहित आठ लोगों की मौत हो गई। जबकि 800 से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती हैं। फिलहाल गैस के रिसाव पर काबू पा लिया गया है। घटना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनडीएमए की आपात बैठक बुलाई है। बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और राजनाथ सिंह भी मौजूद हैं।

विशाखापट्टनम में हुई घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि घटना के संबंध में गृह मंत्रालय और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) के अधिकारियों से बात की है, मामले की कड़ी निगरानी की जा रही है। मैं विशाखापट्टनम में सभी की सुरक्षा और भलाई के लिए प्रार्थना करता हूं।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी बीमारों से मिलने के लिए अस्पताल रवाना हो गए हैं। घटना के बाद से इलाके में अफरातफरी का माहौल है।  कंपनी के आसपास के पांच गांवों को खाली कराया गया है।

गैस लीक की घटना परेशान करने वाली: अमित शाह
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि विजग में गैस लीक की घटना परेशान करने वाली है, हम लगातार और करीब से घटना की निगरानी कर रहे हैं। मैं विशाखापट्टनम के लोगों की भलाई के लिए प्रार्थना करता हूं।

अब तक सात लोगों की मौत
आध्रं प्रदेश के डीजीपी ने कहा कि अभी तक आठ लोगों की मौत हो चुकी है। जिनमें से एक व्यक्ति की मौत भागने की कोशिश में कुएं में गिर जाने के कारण हुई। गैस लीक की घटना आज सुबह हुई। बचाव अभियान अभी भी जारी है। लॉकडाउन के चलते प्लांट बंद था।

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि गैस लीक में मरने वाले लोगों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है। स्थिति का जायजा लेने के लिए मैंने राज्य के मुख्य सचिव और डीजीपी से बात की है।

उन्होंने आगे कहा कि एनडीआरएफ की टीमों को आवश्यक राहत उपाय उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। हालात पर लगातार निगरानी रखी जा रही है। अभूतपूर्व और दुर्भाग्यपूर्ण घटना में सैकड़ों लोग प्रभावित हुए हैं। गृह सचिव और जीओआई से बात की है और उन्हें आवश्यक सहायता प्रदान करने का अनुरोध किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *