Breaking News

अब वैज्ञानिकों के साथ-साथ पुजारी भी सुलझाएंगे एलियंस का रहस्य, NASA कर रहा भर्ती

नासा (NASA) का नाम तो आपने सुना होगा. यह अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी है, जिसमें नौकरी करने का सपना दुनियाभर के वैज्ञानिक देखते हैं. यह एक ऐसी एजेंसी है, जो ब्रह्मांड के अनसुलझे रहस्यों को सुलझाने का लगातार प्रयास करती रहती है. नासा दूसरी दुनिया यानी एलियंस के रहस्यों को भी सुलझाने के काम में भी पिछले कई सालों से लगा हुआ है, लेकिन इसमें अभी तक कोई खास सफलता नहीं मिल पाई है. इसलिए नासा अब एजेंसी में पुजारियों की भी भर्ती कर रहा है, ताकि एलियंस से संपर्क साधने में उनकी भी मदद ली जा सके.

एलियंस के बारे में तो आपने भी टीवी आदि पर कई बार सुना और देखा होगा, लेकिन असल में ब्रह्मांड में इनका अस्तित्व है या नहीं, यह अभी भी रहस्य ही बना हुआ है. हालांकि वैज्ञानिकों का मानना है कि ब्रह्मांड में कहीं न कहीं एलियंस होंगे जरूर, इसलिए इस मामले को काफी गंभीरता से लिया जाता है. नासा भी इसको लेकर काफी गंभीर है. अब तक को नासा के टॉप क्लास के वैज्ञानिक ही एलियंस और यूएफओ के रहस्यों को सुलझाने की कोशिश में लगे हुए थे, लेकिन अब पुजारी यानी धर्मशास्त्री भी इस काम में वैज्ञानिकों की मदद करते दिखाई देंगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दुनिया में मौजूद अलग-अलग धर्मों के लोगों की एलियंस के बारे में क्या सोच है, नासा ये जानने की भी कोशिश कर रहा है और इसीलिए धर्मशास्त्रियों की टीम में अलग-अलग धर्मों के पुजारियों को शामिल किया जाएगा. बताया जा रहा है कि कुल 24 धर्मशास्त्रियों की टीम होगी, जो एलियन हंटिंग मिशन (Alien Hunting Mission) का हिस्सा होंगे. ब्रिटेन के जाने-माने पादरी डॉक्टर एंड्र्यू डेविसन को भी इस मिशन में शामिल किया गया है.

दरअसल, ब्रह्मांड में सैकड़ों अरब आकाशगंगाएं हैं और हर आकाशगंगा में 100 अरब से भी ज्यादा तारे मौजूद हैं, ऐसे में सवाल उठाया जाता है कि पृथ्वी के अलावा किसी दूसरे ग्रह पर जीवन क्यों नहीं हो सकता. इसी को आधार मानकर नासा एलियंस की खोज और उनसे संपर्क की कोशिश में लगा हुआ है. फिलहाल तो इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता, लेकिन अगर ब्रह्मांड में कहीं एलियंस मौजूद हैं, तो ऐसा माना जाता है कि आने वाले भविष्य में उनसे संपर्क किया जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *