Breaking News

Turkey में शक्तिशाली भूकंप से मची तबाही, ताश के पत्तों की तरह ढहीं इमारतें; 17 की मौत- 709 लोग घायल

तुर्की और यूनान के तट के बीच शुक्रवार देर रात आए शक्तिशाली भूकंप में तुर्की में कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई, जबकि 709 लोग घायल हो गए। तुर्की के आपदा और आपातकालीन प्रबंधन प्रेसीडेंसी ने इस बात की पुष्टि की है। बचाव और राहत कार्य में चिकित्सा बचाव टीमें इजमिर में काम में जुटी हैं। तुर्की जमीन के भीतर मौजूद बड़ी फॉल्ट लाइन के ऊपर बसा देश है और इस कारण इसकी गिनती उन देशों में होती है जहां सबसे अधिक भूकंप आते हैं।

राहत-बचाव कार्य जारी है (पीटीआई)

यूरोपीय- मूध्यसागर भूकंप विज्ञान केंद्र ने कहा कि शुरुआत में रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 7 थी और इसका केंद्र यूनान के उत्तर-उत्तरपूर्व में सामोस द्वीप में था। वहीं, अमेरिका के भूगर्भ सर्वेक्षण के अनुसार भूकंप की तीव्रता 7.0 थी। तुर्की के तट और यूनान के सामोस प्रायद्वीप के बीच आए इस शक्तिशाली भूंकप के चलते पश्चिमी तुर्की के इजमिर प्रांत में कई इमारतें जमींदोज हो गईं। यूनान के सामोस में भी कुछ नुकसान हुआ है। इजमिर में मलबे के अंदर और लोग दबे हुए हैं।

तुर्की के आपदा एवं आपात प्रबंधन विभाग ने कहा कि भूकंप का केंद्र एजियन सागर में 16.5 किलोमीटर नीचे था। भूकंप की तीव्रता 6.6 दर्ज की गई है। विभाग ने कहा कि उसने खोज एवं बचाव टीमों को इजमिर भेजा है। तुर्की की मीडिया में मध्य इजमिर में बहुमंजिला इमारत का मलबा दिखाया गया है। इसके अलावा बचावकर्मी भी तैनात दिखाई दे रहे हैं। मध्य इजमिर में कई जगह धुआं उठने की तस्वीरें भी सामने आई हैं। यूनान की मीडिया ने कहा कि भूकंप के दौरान सामोस और अन्य प्रायद्वीपों के निवासी अपने-अपने घरों से बाहर निकलकर भागे।

turkey earthquake

ग्रीस के सामोस द्वीप पर भी भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। लोगों से समुद्र के किनारों पर नहीं जाने को कहा गया है। बताया जा रहा है कि भूकंप का केंद्र ग्रीस के इस द्वीप के नजदीक है, इसलिए यहां भारी नुकसान पहुंचने की खबरें आ रही हैं।

बता दें कि अगस्त 1999 में इस्तांबुल के दक्षिणपूर्व में बसे शहर इजमिर में 7.6 तीव्रता का भूकंप आया था। इस भूकंप 17,000 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। साल 2011 में पूर्वी शहर वान में आए एक शक्तिशाली भूकंप ने पांच सौ लोगों की जान ले ली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *