Breaking News

PMO के आदेश और योगी पुलिस के खिलाफ क्यों धरने पर बैठे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई प्रह्लाद मोदी?

बुधवार को लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर हाइप्रोफाइल ड्रामा देखने को मिला. कल दोपहर दिल्ली से लखनऊ पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई प्रह्लाद मोदी अमौसी एयरपोर्ट पर अनशन पर बैठ गए. प्रह्लाद मोदी ने आरोप लगाया कि लखनऊ पुलिस ने उनके स्वागत के लिए एयरपोर्ट आए कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है. मोदी ने अन्न-जल त्यागकर वहीं अनशन की चेतावनी दे डाली.

पीएम मोदी के भाई हैं कोई किसान थोड़े ही हैं

अब प्रधानमंत्री मोदी के भाई के अनशन पर बैठने की खबर योगी सरकार के अधिकारियों तक पहुंची तो सबके हाथ-पांव फूल गए और फिर जमाना सोशल मीडिया का है, तो जैसे ही यह मामला वायरल हुआ, आनन-फानन में पुलिस ने हिरासत में लिए गए कार्यकर्ताओं को तुरन्त रिहा कर दिया. इस तरह करीब दो घंटे तक चले इस हाइप्रोफाइल अनशन ड्रामा के बाद प्रह्लाद मोदी पहले होटल और फिर बाद में सड़क मार्ग से सुल्तानपुर के लिए रवाना हो गए.

आपको बताते हैं आखिर क्या है पूरा माजरा

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भाई और विश्व हिन्दू महासंघ और ऑल इंडिया फेयर प्राइज शॉप एसोसिएशन के उपाध्यक्ष प्रहलाद मोदी दिल्ली से आने वाली 2 बजे की उड़ान से राजधानी पहुंचे थे. योग सोशल सोसाइटी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष माया ए आनंद ने बताया कि प्रह्लाद मोदी सामाजिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए चार दिवसीय प्रदेश दौरे लखनऊ पहुंचे थे. इस दौरान उन्हें लखनऊ में रुककर सुल्तानपुर, जौनपुर, प्रतापगढ़, प्रयागराज समेत कई जिलों में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने जाना था. इसी बीच सुलतानपुर, जौनपुर और प्रयागराज में योग सोशल सोसाइटी की ओर से प्रह्लाद मोदी को सम्मानित किया जाना था. लेकिन पुलिस ने एक दिन पहले ही सोसाइटी औऱ इस कार्यक्रम को फर्जी बताते हुए सोसाइटी के राष्ट्रीय संचालक हरिराम जायसवाल सहित कुछ समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया था. जब प्रह्लाद मोदी अमौसी एयरपोर्ट पर उतरे तो उन्हें इस बारे में जानकारी मिली, ऐसे में प्रहलाद मोदी ने जिद पकड़ ली है कि जिन समर्थकों और आयोजकों को गिरफ्तार किया गया है, उनको तुरंत बिना शर्त रिहा कर दिया जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *