Breaking News

OMG: एक दूसरे से 900 km दूर रह रहे जुड़वा भाइयों की एक ही तरीके से मौत

राजस्थान में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे देख कर हर कोई हैरान है। यहां के बाड़मेर में 26 साल पहले एक साथ जुड़वा के रूप में जन्मे दो भाइयों की एक साथ मौत हो गई। ये मामला चौंकाने वाला इसलिए भी ज्यादा लग रहा है क्योंकि दोनों जुड़वा भाइयों की मौत भी एक तरह से ही हुई, जबकि दोनों एक-दूसरे से 900 किलोमीटर दूर अलग-अलग राज्यों में रहते थे। एक भाई छत से फिसलकर गिरने से तो दूसरे की पानी में फिसलकर गिरने से मौत हो गई। गुरुवार को परिजनों ने दोनों जुड़वा भाइयों का अंतिम संस्कार एक साथ उनके पैतृक गांव में कर दिया। दोनों भाइयों का नाम सोहन सिंह और सुमेर सिंह था।

दरअसल बाड़मेर के रहने वाले दो भाइयों का जन्म लगभग 25 साल पहले जुड़वा के रूप में हुआ था। मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, अपनी शुरुआती पढ़ाई एक साथ पूरी करने के बाद एक भाई गुजरात की एक टेक्सटाइल कंपनी में नौकरी करने लगा था जबकि दूसरा भाई जयपुर में रह कर सेकंड ग्रेड टीचर भर्ती की तैयारी करता था। बुधवार को सुमेर गुजरात के सूरत में फोन पर बात करते हुए छत से गिर गया था जिसके बाद उसकी मौत हो गई थी। मौत की खबर सुनकर दूसरा भाई सोहन सिंह भी घर आया और गुरुवार की सुबह वाटर टैंक में फिसलकर गिया और उसकी भी मौत हो गई।

सूरत में छत से गिरने के कारण एक भाई सुमेर की मौत हो गई थी। भाई की मौत की खबर सुनी जयपुर में पढ़ाई कर रहा सोहन भी घर आया था। भाई की मौत के अगले दिन सुबह सोहन भी वाटर टैंक में फिसल गया जिससे उसकी भी मौत हो गई। परिवार वालों को क्या मालूम था कि एक बेटे की मौत की खबर सुन घर आया दूसरा बेटा भी उनसे हमेशा के लिए दूर चला जाएगा। दो जवान बेटों की मौत से परिवार के लोग सदमें में हैं।

दो दिन में दो जुड़वा भाइयों की मौत की खबर के बाद बाड़मेर के सिंदरी पुलिस थाने के SHO सुरेंद्र सिंह ने सोहन की मौत को सुसाइड मानने से इनकार नहीं किया है। सुरेंद्र सिंह का कहना है कि इस मामले में दूसरी मौत को सुसाइड होने से इनकार नहीं किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *