Breaking News

CWG 2022: अचिंता शेउली ने भारत को दिलाया तीसरा गोल्‍ड, राष्ट्रमंडल खेलों में बनाया ये नया रिकार्ड

भारतीय वेटलिफ्टर अचिंता शेउली (Indian weightlifter Achinta Sheuli) ने कमाल कर दिया है। उन्होंने बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों (Commonwealth Games) में भारत (India) के लिए तीसरा स्वर्ण पदक जीता है। भारत ने तीनों स्वर्ण समेत सभी पदक वेटलिफ्टिंग (weightlifting) में ही जीते हैं। 20 साल के अचिंता ने 73 किलोग्राम भारवर्ग में स्नैच राउंड में 143 किलो और क्लीन एंड जर्क राउंड में 170 किलो समेत कुल 313 किलो वजन उठाया। यह भारत के लिए तीसरे दिन (रविवार) का दूसरा पदक रहा। इससे पहले वेटलिफ्टर जेरेमी लालरिनुंगा (Jeremy Lalrinnunga) ने 67 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण जीता था।

सभी छह पदक भारत को वेटलिफ्टिंग में
अचिंता और जेरेमी से पहले शनिवार को भारत ने चार पदक वेटलिफ्टिंग में ही जीते थे। महिलाओं में अपने-अपने भारवर्ग में मीराबाई चानू ने स्वर्ण और बिंदियारानी देवी ने रजत पदक जीता था। वहीं, पुरुषों में अपने-अपने भारवर्ग में संकेत सरगर ने रजत और गुरुराजा पुजारी ने कांस्य पदक अपने नाम किया था। बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों की पदक तालिका में भारत फिलहाल छठे स्थान पर है। भारत से आगे ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका और कनाडा हैं।

स्नैच राउंड में अचिंता का प्रदर्शन
अचिंता शेउली ने स्नैच राउंड टॉप पर रहते हुए खत्म किया। उन्होंने पहले प्रयास में 137 किलो, दूसरे प्रयास में 140 किलो और तीसरे प्रयास में 143 किलो का वजन उठाया। स्नैच राउंड में 143 किलो का वजन उनका पर्सनल बेस्ट भी है। स्नैच राउंड में दूसरे स्थान पर मलेशिया के हिदायत मोहम्मद रहे। अचिंता शेउली ने हिदायत पर स्नैच राउंड के बाद पांच किलो की बढ़त बना रखी थी।

स्नैच राउंड में अचिंता ने बनाया रिकॉर्ड
अचिंता ने स्नैच राउंड में दो बार कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड (commonwealth record) बनाया। स्नैच राउंड में 140 किलो वजन उठाने के साथ ही अचिंता ने कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड को तोड़ दिया था। इससे पहले किसी ने इस राउंड में इतना भार नहीं उठाया था। वहीं, तीसरे प्रयास में 143 किलो उठाने के साथ ही अचिंता ने अपने प्रदर्शन और रिकॉर्ड को ही और सुधारा।

 

क्लीन एंड जर्क राउंड में अचिंता ने 170 किलो वजन उठाया
इसके बाद क्लीन एंड जर्क राउंड में अचिंता ने पहले प्रयास में 166 किलो का वजन उठाया, जो कि कॉमनवेल्थ गेम्स का रिकॉर्ड भी है। इसके बाद दूसरे प्रयास में उन्होंने 170 किलो उठाने का प्रयास किया, लेकिन विफल रहे। तीसरे प्रयास में फिर उन्होंने 170 किलो वजन उठाया और अपने ही रिकॉर्ड में सुधार किया।

अचिंता ने कॉमनवेल्थ गेम्स रिकॉर्ड अपने नाम किया
अचिंता ने स्नैच राउंड में 143 किलो और क्लीन एंड जर्क राउंड में 170 किलो वजन समेत कुल 313 किलो वजन उठाया, जो कि कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड भी है। अचिंता के नाम अब स्नैच राउंड में कॉमनवेल्थ गेम्स रिकॉर्ड, क्लीन एंड जर्क राउंड में कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड और कुल वजन में भी कॉमनवेल्थ रिकॉर्ड है।

अचिंत को मलेशिया के हिदायत से मिली कड़ी टक्कर
अचिंता के बाद दूसरे स्थान पर मलेशिया के हिदायत मोहम्मद रहे। हिदायत ने स्नैच राउंड में 138 किलो का वजन उठाया। इसके बाद क्लीन एंड जर्क में उन्होंने पहले प्रयास में 165 किलो का वजन उठाया। अचिंता ने स्नैच, क्लीन एंड जर्क मिलाकर कुल 313 किलो वजन उठा लिया था।हिदायत को इससे आगे निकलने के लिए और 314 किलो वजन उठाने के लिए क्लीन एंड जर्क में 176 किलो का वजन उठाना था। उन्होंने दूसरे और तीसरे प्रयास में 176 किलो अटैम्प्ट भी करने की कोशिश की, लेकिन विफल रहे। इस तरह अचिंता शेउली ने स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

 

सिर्फ 20 साल के हैं अचिंता शेउली
20 साल के अचिंता ने इससे पहले 2021 ताशकंद जूनियर वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में 73 किलो भारवर्ग में रजत पदक जीता था। वहीं, उन्होंने 2019 कॉमनवेल्थ वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप और 2021 ताशकंद कॉमनवेल्थ वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में 73 किलो भारवर्ग में ही स्वर्ण जीता था।

भारत की नजर पिछले रिकॉर्ड पर

राष्ट्रमंडल खेलों के पिछले संस्करण में भारतीय वेटलिफ्टर्स ने पांच स्वर्ण सहित कुल नौ पदक जीते थे। तब टीम इंडिया वेटलिफ्टिंग की बेस्ट टीम रही थी। वहीं, इस बार बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में वेटलिफ्टिंग में अब तक भारत को तीन स्वर्ण समेत छह पदक मिल गए हैं। 2022 कॉमनवेल्थ गेम्स में वेटलिफ्टिंग में भारत पदक के मामले में टॉप पर है। दूसरे नंबर पर तीन पदक के साथ मलेशिया है। अब यह देखना है कि भारत 2018 राष्ट्रमंडल खेलों के रिकॉर्ड को तोड़ पाता है या नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *