Breaking News

14 जून की सामने आई सच्चाई, AIIMS पैनल ने बताया हत्या या आत्महत्या..

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत को तीन महीने से ज्यादा हो चुके हैं. लेकिन उनकी मौत कैसे हुई ये सवाल अब भी वैसे ही खड़ा है. सुशांत के परिवार और उनके फैंस का कहना है कि एक्टर की मौत आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या है. मौत की असली वजह को जानने के लिए देश की तीन बड़ी एजेंसियां जुटी हुई हैं. मगर एक्टर की मौत की गुत्थी उलझती ही जा रही है. इन तीन महीनों में कई ऐसे खुलासे हुए हैं जिन्हें जानने के बाद लोग भी हैरान हैं. खासतौर से मामले में जो ड्रग एंगल सामने आया है उसने तो पूरे केस की दिशा ही बदल दी है.

हत्या या आत्महत्या?
सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद उनके शव को कूपर अस्पताल लाया गया था और यहीं पर पोस्टमार्टम हुआ था. जब एक्टर की मौत को आत्महत्या बताया गया तो लोगों ने सीबीआई जांच की मांग उठाई इसके बाद सीबीआई ने केस की कमान संभाली और अब फॉरेंसिक रिपोर्ट में हत्या की बात को खारिज कर दिया गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, AIIMS के पैनल ने हत्या की थ्योरी को खारिज कर दिया है और कहा कि जिन हालातों में एक्टर की मौत हुई है वो बताती है कि इसमें किसी किस्म का फाउल प्ले नहीं है और ये मामला आत्महत्या का है. बता दें. सोमवार को ही AIIMS मेडिकल बोर्ड ने सीबीआई के साथ अपनी जांच रिपोर्ट कूपर अस्पताल द्वारा निकाले गए निष्कर्षों के साथ शेयर की थी.

CBI का अगला कदम क्या होगा?
चूंकि अब आत्महत्या की बात सामने आई है तो सीबीआई इसकी जांच सुसाइड एंगल को लेकर करेगी. अब आगे की जांच में इस बात को तलाशा जाएगा कि, एक्टर ने सुशांत किस वजह से की थी? क्या इसके लिए उन्हें किसी ने उकसाया था? ऐसे तमाम सवालों के जवाब ढूंढने की कोशिश की जाएगी और अगर इस बीच हत्या का एंगल नजर आता है तो आईपीसी की धारा 302 जोड़ दी जाएगी जो इरादतन हत्या के लिए लगाई जाती है. मगर अब तक की जांच में इस तरह का कोई भी एंगल नजर नहीं आया है.

20 लोगों से कड़ी पूछताछ
सीबीआई ने मामले की कमान हाथ में लेने के बाद रिया चक्रवर्ती समेत 20 लोगों से कड़ी पूछताछ की थी. इसके अलावा एक लैपटॉप, हार्ड डिस्क, कैनन कैमरा और दो मोबाइल फोन भी सीज किए गए थे जिनकी जांच चल रही है. चूंकि अब सीबीआई को फॉरेंसिक रिपोर्ट मिल चुकी है तो अब एजेंसी ही तय करेगी कि आगे की जांच किस तरह से होगी और कैसे नतीजे पर पहुंचा जाएगा. क्योंकि, मामला अब भी उलझा हुआ है.

गौरतलब है कि, 14 जून 2020 को सुशांत सिंह राजपूत की डेडबॉडी उनके मुंबई स्थित घर में कथित तौर पर पंखे से लटकती पाई गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *