Breaking News

हिमाचल चुनावः वोटिंग से पहले जानें जनता का मूड, सर्वे ने बताया किसकी बनेगी सरकार?

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में मतदान में अब महज 2 दिन बचे हैं। 12 नवंबर को राज्य के मतदाता (voter) ईवीएम (EVM) में अपना फैसला दर्ज करेंगे जो 8 दिसंबर को सामने आएगा। फिलहाल गुरुवार शाम को आए 4 ओपिनियन पोल (opinion polls) ने जनता का मूड बताने की कोशिश की है। एक सर्वे में भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) के बीच बेहद नजदीकी मुकाबले की भविष्यवाणी की गई है तो कुछ में अनुमान लगाया गया है कि सत्ताधारी भगवा पार्टी 37 सालों का रिकॉर्ड तोड़ते हुए लगातार दूसरी बार सरकार बना सकती है। जानते हैं कि किस सर्वे का क्या अनुमान है।

सी-वोटर ने बताया कांटे का मुकाबला
सी-वोटर की ओर से जारी सर्वे का अनुमान है कि मुकाबला किसी भी तरफ जा सकता है। भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर हो सकती है। ओपिनियन पोल के मुताबिक, 68 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा को 31-39 सीटों पर जीत हासिल हो सकती है तो कांग्रेस भी 29-37 सीटों पर कब्जा कर सकती है। आम आदमी पार्टी को 0-1 सीट से संतोष करना पड़ सकता है तो अन्य के खाते में 00-3 सीटें जा सकती हैं। सर्वे में भविष्यवाणी की गई है कि भाजपा को 45 फीसदी वोट मिल सकते हैं तो कांग्रेस को 44 फीसदी मत मिलने का अनुमान है। ‘आप’ को 3 और अन्य को 8 फीसदी वोट मिल सकते हैं।

इंडिया टीवी-मैटराइज का ओपिनियन पोल
इंडिया टीवी-मैटराइज के सर्वे में कहा गया है कि पहाड़ी राज्य में भाजपा एक बार फिर सरकार बना सकती है। इस ओपिनियन पोल में भाजपा को 38-43 सीटें मिलने की भविष्यवाणी की गई है। कांग्रेस को 24-29 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है। अन्य के खाते में 1-3 सीटें जा सकती हैं।

जी न्यूज-दर्पण के सर्वे में भाजपा को स्पष्ट बहुमत का अनुमान
जी न्यूज-दर्पण की ओर से किए गए ओपिनियन पोल का अनुमान है कि भाजपा एक बार फिर पहाड़ पर कमल खिला सकता है। भाजपा को 40 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है। 5 साल पर सरकार बदलने की पुरानी रवायत के तहत सत्ता मिलने की आस में बैठी कांग्रेस को 26 सीटों से संतोष करना पड़ सकता है। मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने निकली आम आदमी पार्टी को लेकर अनुमान है कि खाता भी नहीं खुलेगा। अन्य के खाते में 0-2 सीटें जा सकती हैं।

रिपब्लिक भारत और पी-मार्क का सर्वे
रिपब्लिक भारत और पी-मार्क के सर्वे में एक बार फिर भाजपा सरकार बनने का अनुमान लगाया गया है। सर्वे के मुताबिक, भाजपा को 37-45 सीटें मिल सकती हैं। कांग्रेस के खाते में 22-28 सीटें जा सकती हैं। आम आदमी पार्टी को एक सीट मिलने की भविष्यवाणी की गई है। सर्वे में भाजपा को 45.2 फीसदी, कांग्रेस को 40.1 फीसदी, आम आदमी पार्टी को 5.2 फीसदी और अन्य को 9.5 फीसदी वोट मिलने का अनुमान लगाया गया है।

पिछले दो विधानसभा चुनाव में कैसा रहा नतीजा
2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को 44 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। कांग्रेस को 21 सीटों से संतोष करना पड़ा था। अन्य को 3 सीटें मिली थीं। 2012 में कांग्रेस ने 36 सीटों के साथ सत्ता पर कब्जा जमाया था और भाजपा को 26 सीटें मिली थीं। अन्य के खाते में 6 सीटें गईं थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *