Breaking News

स्वरोजगार से संवरेगी पहाड़ों की आर्थिकीः डा धन सिंह रावत

प्रदेश के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डा धन सिंह रावत थलीसैण विकास खंड मुख्यालय में दीनदयाल उपाध्याय किसान कल्याण योजना के अंतर्गत महिला स्वयं सहायता समूहों को 5 लाख धनराशि के चैक वितरित किए। इसके अलावा राजकीय आदर्श विद्यालय थलीसैण में नव निर्मित कक्षा कक्षों का भी लोकार्पण किया।

श्रीनगर विधान सभा के अंतर्गत थलीसैण में आयोजित कार्यक्रम में सहकारिता, उच्च शिक्षा, चिकित्सा स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्री डा धन सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश में संचालित होने वाली घसियारी कल्याण योजना पहाड़ के विकास में मील का पत्थर साबित होगी। कहा कि सहकारिता के क्षेत्र में सरकार ने अपूर्व कार्य किए हैं। सरकार की विभिन्न योजनाओं से बड़ी तादाद में लोग स्वरोजगार से जुड़ रहे हैं। स्वावलंबन की दिशा में आगे बढ़ते हुए महिला समूहों को पांच लाख तक ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्वरोजगार से जुड़कर ही हम पहाड़ की आर्थिकी को मजबूत कर सकते हैैं। कहा कि राजकीय आदर्श विद्यालय में चार नए कक्षों के निर्माण से यहां पठन पाठन की व्यवस्था दुरूस्त हो जायेगी। स्कूलों में शिक्षा के गुणात्मक सुधार के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

कार्यक्रम मेें मंत्री ने राजकीय आदर्श इंटर कालेज थलीसैण में 57.78 लाख की लागत से निर्मित 4 कक्षा-कक्षों का लोकार्पण किया। वहीं ब्लाक मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में राज्य समेकित सहकारी विकास परियोजना भेड़ बकरी सेक्टर के अंतर्गत भेड़-बकरी इकाई का वितरण किया। ग्रामीण क्षेत्रों में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए दीनदयाल उपाध्याय किसान कल्याण योजना के अंतर्गत महिला स्वयं सहायता समूहों को 5 लाख की धनराशि के चौक और कुक्कट पालन करने वालों को मूर्गियां, महिलाओं को सिलाई मशीन और आधुनिक आटा चक्की का वितरण किया। राठ विकास अभिकरण के समूहों की 520 महिलाओं को घसियारी किट वितरित किए।
इस मौके पर जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह रावत, कैन्यूर की पंचायत प्रधान विनीता नेगी, भाजपा मंडल अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह नेगी, पूर्व पंचायत प्रधान आनंद सिंह समेत बड़ी तादाद में क्षेत्रवासी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *