Breaking News

सरकार का बड़ा फैसला, शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार 7 बजे तक लागू रहेगा लॉकडाउन

महाराष्ट्र में कोरोना का कहर लगातार बढ़ रहा है. वहीं लगारा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे लॉकडाउन लगाने की बात कह रहे हैं. रविवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई है.  इस बैठक में फैसला लिया गया है कि प्रदेश में वीकेंड लॉकडाउन लगाया जाएगा. इस बात की पुष्टि एनसीपी नेता नवाब मलिक ने की है. उन्होंने कहा कि राज्य में वीकेंड लॉकडाऊन यानी दो दिनों का लॉकडाऊन लगेगा.

शुक्रवार रात आठ से सुबह सात बजे से कर्फ्यू लागू रहेगा. फिल्मों की शूटिंग नहीं रोकी जाएगी, लेकिन थिएटर बंद रहेंगे. रात को सिर्फ अति आवश्यक सेवाओं को शुरू रखा जाएगा. गार्डन और प्ले ग्राऊंड बंद रहेंगे.

बैठक से निकल कर उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा कि पुणे में जिस तरह का निर्णय लिया गया है उसी पैटर्न पर कोई निर्णय लिया जा सकता है. वास्तविक निर्णय रात 8 बजे बताया जाएगा.

कैबिनेट मीटिंग में क्या हुआ फैसला

  1. राज्य में दो दिनों के वीकेंड लॉकडाउन का निर्णय.
  2. शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक लॉकडाउन रहेगा. शनिवार और रविवार को कड़ा लॉकडाउन रहेगा.
  3. अतिआवश्यक सेवाएं शुरू रहेंगी. सब्जी मार्केट शुरू रहेंगे.
  4. सभी धार्मिक स्थल, सभी मैदान, सभागृह बंद रहेंगे.
  5. सभी मॉल्स, रेस्टॉरेंट और बार बंद रहेंगे.
  6. दुकानों और होटलों में पार्सल सेवाएं शुरू रहेंगी.
  7. गार्डन, समुद्री किनारा, सिनेमाघर बंद रहेंगे.
  8. गृह निर्माण के सारे काम शुरू रहेंगे.
  9. रिक्शा, टैक्सी, प्राइवेट बसें भी शुरू रहेंगी.
  10. मुंबई में लोकल परिवहन सेवाएं शुरू रहेंगी.
  11. ऑफिस 50 प्रतिशत क्षमता के साथ शुरू रहेंगे.
  12. सार्वजनिक परिवहन सेवा 50 प्रतिशत क्षमता से शुरू रहेगी.
  13. वीक डेज में दिन में धारा 144 और रात को नाइट कर्फ्यू लागू रहेगी.

3.30 बजे बुलाई गई थी राज्य मंत्रिमंडल की बैठक

राज्य में बढ़ते कोरोना के विस्फोट को देखते हुए रविवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अचानक राज्य मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई थी. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा यह बैठक हुई. बैठक से पहले मुख्यमंत्री ने मनसे प्रमुख राज ठाकरे को फोन कर अपील की थी कि अगर लॉकडाउन का रास्ता चुनना पड़े तो सहयोग दें. इससे पहले नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री को फोन कर उनकी पत्नी रश्मि ठाकरे और पुत्र आदित्य ठाकरे का हाल चाल पूछा. ये दोनों कोरोना संक्रमित हैं. साथ ही देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री से कहा था कि वे जो भी फैसले लेते हैं उस फैसले पर विपक्ष पूरा साथ देगा और सकारात्मक भूमिका निभाएगा.

मुख्यमंत्री ने इस मंत्रिमंडल से पहले आज सिनेमा और टीवी सीरियल से जुड़े प्रतिनिधियों के साथ भी एक मीटिंग की, जिसमें अन्य प्रमुख लोगों के साथ महेश भट्ट भी शामिल हुए. उद्धव ठाकरे ने कल भी मीडिया, सिनेमा उद्योग, मल्टिप्लेक्सेस के मालिकों, जिम मालिकों और मीडिया ग्रुप के संपादकों के साथ अहम बैठकें की थीं. जितनी तेजी से बैठकों का दौर शुरू था उससे यह समझ आ रहा था कि कोई बड़ा फैसला आने वाला है.

लॉकडाउन को लेकर सहयोगी पार्टियों में भी दो मत थे

बता दें कि लॉकडाउन के संदर्भ में महाविकास आघाड़ी में शामिल पार्टियों में भी एक राय नहीं थी. कांग्रेस ने पहले ही साफ कर दिया था कि लॉकडाउन कोई उपाय नहीं है. जबकि एनसीपी की तरफ से लॉकडाउन को लेकर सकारात्मक प्रतिक्रियाएं सामने आ रही थीं. एनसीपी नेता छगन भुजबल ने तो साफ कहा था कि एकाध हफ्ते तक लॉकडाउन से काम नहीं चलेगा. कोरोना की श्रंखला तोड़नी है तो लंबे समय तक यानी तीन-चार हफ्ते तक लॉकडाउन जरूरी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *