Breaking News

शाहजहांपुर : एक महीने बाद छात्रा ने हारी जिंदगी की जंग, इरादों में नाकाम होने पर शोहदों ने था जलाया

यूपी(UP) के शाहजहांपुर जिले(Shahjahanpur district) के कांट थानाक्षेत्र में बीते 22 फरवरी को गैंगरेप की कोशिश नाकाम होने के बाद आरोपियों ने जिस छात्रा को जलाया था. अब इतने दिनों बाद जीवन की जंग को वो छात्रा हार गई है. कई दिनों से छात्रा का लखनऊ में इलाज तल रहा था. अब लखनऊ  में ही छात्रा का पोस्टमार्टम कराया जाएगा.

अधजली हालत में मिली थी मृतका

बता दें कि शाहजहांपुर के कांट थाना क्षेत्र के पास गांव में रहने वाली लड़की जिसकी उम्र 22 वर्ष की थी, वो शाहजहांपुर के एसएस कॉलेज में बीए सेकेंड ईयर की पढ़ाई कर रही थी.

22 फरवरी को वो अपने पिता का साथ कॉलेज गई थी, लेकिन शाम को वो घर नहीं पहुंची, बल्कि अधजली हालत में तिलहर थाना क्षेत्र के नगरिया मोड़ के पास मिली. ग्रामीणों से बेटी की सूचना मिलने पर परिजनों ने उसे पुलिस ने मेडिकल कॉलेज में एडमिट कराया. यहां से उसको लखनऊ के सिविल हॉस्पिटल में रेफर कर दिया गया. छात्रा ने मजिस्ट्रेट को जो  बयान दिया उसमें उसने कहा था कि उसके साथ क्लास में पढ़ने वाली  पिंकी ने उसे कॉलेज से बाहर मिलने के लिए बुलाया था.

 

कॉलेज से थोड़ी दूरी पर छात्रा वहां पहुंची, वहां पर पिंकी की जगह कॉलेज के दो छात्र मनीष, सुभाष और एक उनके साथ एक अन्य युवक राजू खड़े थे, जो छात्रा को जबरन नगरिया मोड़ ले गए। वहां एक बाग में तीनों ने उसका गैंगरेप करने का प्रयास किया, जब सफल नाहो पाए, तो केरोसिन(मिट्टी का तेल) डालकर छात्रा को जला दिया। पुलिस ने पहले ही छात्रा के बयान के आधार पर क्लासमेट पिंकी, सुभाष, मनीष और राजू के खिलाफ तिलहर थाने में एफआईआर दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया था।

22मार्च की रात लखनऊ के सिविल हॉस्पिटल में भर्ती छात्रा की हालत बिगड़ती गई। डॉक्टर्स ने कई प्रयास किए, लेकिन रात डेढ़ बजे के करीब छात्रा की मौत हो गई। बेटी की मौत पर माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। मामले को लेकर एसपी एस आनन्द ने बताया कि छात्रा की मौत की जानकारी मिली है। उसका पोस्टमॉर्टम लखनऊ में कराया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *